चूरू: बहु को अकेली पाकर ससुर की बिगड़ी नीयत, बंद कमरे में खिड़की के रास्ते घुसा- और फिर...

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: nakul

Updated: 24 Jul 2018, 01:10 PM IST

चूरू।

राजस्थान में चुरू के कोतवाली थाना क्षेत्र में कलयुगी ससुर ने अपनी पुत्रवधु से दुष्कर्म करने की कोशिश की। लेकिन दुष्कर्म में विफल होने पर बहु को छुरे के वार करके घायल कर दिया, बाद में खुद ने आत्महत्या कर ली।

 

चुरू महिला थाना पुलिस ने बताया कि घायल 30 वर्षीय पीड़िता ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि वह अपने सास-ससुर से अलग वार्ड छह में रहती है। सोमवार सुबह उसका पति स्टूडियो का काम सीखने जयपुर चला गया। शाम को उसका ससुर रफीक (50) उसके घर आया और जिद करके रात में वहीं ठहर गया। रात करीब 11 बजे छत पर अपने दोनों बच्चों को सुलाया तो रफीक भी उनके पास आकर लेट गया।

 

ससुर की नीयत भांपते हुए वह उसी से सटे कमरे में दरवाजा बंद करके सो गई। देर रात को रफीक खिड़की के रास्ते उसके कमरे में घुस आया और छुरा निकालकर उसे धमकी देते हुए दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। कड़े प्रतिरोध के बाद रफीक ने छुरे से उस पर कई वार किए जिससे वह घायल हो गई।

 

उसकी चीखें सुनकर बच्चे जाग गये। इस पर रफीक वहां से चला गया। पीडिता ने बताया कि बाद में दो-तीन पड़ोसियों ने उसे चुरू के अस्पताल में भर्ती करा दिया।

 

उधर कोतवाली पुलिस ने बताया कि घटना के बाद रफीक अपने घर चला गया और विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस को रात करीब दो बजे इसकी इत्तिला मिली, जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव पोस्टमार्टम के लिये चुरू के सरकारी अस्पताल भिजवा दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


... इधर, सगी ***** ने भाई पर लगाया जलाने का आरोप
चूरू के सादुलपुर मोहल्ला रेगरान में एक भाई ने अपनी सगी ***** को जिंदा जलाने का प्रयास किया। घटना में ***** बुरी तरह से झुलस गई तथा जलती हुई घर निकलकर बचाओ-बचाओ करती हुई मुख्य सड़क पर पहुंची। इसके बाद वो अपने सगे भाई पर जलाने का आरोप लगाते हुए उपस्थित मोहल्लेवासियों से बचाने की गुहार करने लगी। बाद में लोगों ने ही ऑटो में बैठाकर उसे सरकारी अस्पताल भिजवाया।

 

सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना का मौका-निरीक्षण किया तथा पीडि़ता का पर्चा बयान दर्ज किया। इस संबंध में थानाधिकारी भगवानसहाय मीणा ने बताया कि वार्ड 27 में मोहल्ला रेगरान निवासी चरणदास उर्फ कालू पर उसकी ***** चंद्रकांता ने उसे जलाने का आरोप लगाया है तथा पर्चा बयान में बताया कि दोपहर को वह अपने पिता के घर में चारपाई पर बैठी थी। इसी बीच उसका भाई चरणदास उर्फ कालू आया तथा उसे ससुराल जाने को कहा।

 

इसपर उसने अपने भाई के सामने गिड़गिड़ाते हुए कहा कि 11 महिनों से उसके पति ने घर से निकाल रखा है, मैं कहां जाऊं? इसी बात पर कहा-सुनी हो गई तथा गुस्से में उसके भाई ने माचिस जलाकर उसे आग लगा दी तथा उसके कपड़ों ने आग पकड़ ली। जिसके कारण पैर एवं शरीर झुलस गए। वहीं झुलसी युवती को चिकित्सकों ने गंभीर हालत देखते हुए हिसार रैफर किया है।

 

थानाधिकारी ने बताया कि पुलिस ने पीडि़ता के बयान पर आरोपित भाई के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उन्होंने बताया कि मामले में जांच के बाद ही वास्तविक स्थिति का खुलासा होगा। मोहल्लेवासियों के अनुसार चंद्रकांता की शादी 10-12 साल पूर्व हो गई थी एवं दो बच्चे भी हैं।

nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned