दो बार हुए टैण्डर, फिर भी नहीं बन पाई सड़क

ढाणी बड़ी में सड़क की दुर्दशा से ग्रामीण परेशान हैं। हालात ऐसे हैं कि इन वाहनों का चलना भी मुश्किल हो रहा है लेकिन जनप्रतिनिधि, प्रशासन की ओर से इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

By: Madhusudan Sharma

Updated: 14 Jun 2021, 10:07 AM IST

सिधमुख. ढाणी बड़ी में सड़क की दुर्दशा से ग्रामीण परेशान हैं। हालात ऐसे हैं कि इन वाहनों का चलना भी मुश्किल हो रहा है लेकिन जनप्रतिनिधि, प्रशासन की ओर से इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इससे परेशान होकर ग्रामीणों ने विरोध भी जताया। ग्रामीणों ने सिधमुख-अजतीपुरा सड़क पर आधे घंटे के लिए जाम लगा दिया। ग्रामीणों ने कहा यदि सिधमुख से तहसील से ढाणी बड़ी आने वाली सड़क को नहीं सुधारा तो बडा आन्दोलन कर आने वाले सभी चुनावो में वोटों का बहिष्कार किया जाएगा। प्रदर्शन करने वालों में ओम सहारण, बलवीर बगडिय़ा, राजपाल सहारण, संदीप गढ़वाल, राजपाल मावर, राजेश गोदारा, अशोक गढ़वाल, बजरंग नायक, दिलबाग मावर, रमेश झाझडिय़ा व अन्य शामिल थे। ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत ढाणी बड़ी को जोडऩे वाली मुख्य सड़क को कई वर्षों से अनदेखा किया जा रहा है। सड़क की स्वीकृति से लेकर टैण्डर तक की प्रक्रिया दो बार हो चुकी है। एक बार तो सड़क नवनीकरण काम शुरू कर दिया था, लेकिन दाबाव के चलते काम बीच में ही रोक दिया। सड़क पर डाले गए रोड़ी व कंकर तक उठाकर वापस ले गए। इसके बाद ढाणी बड़ी के सुभाष रावण व राजवीर कड़वासरा के नेतृत्व में ग्रामीण लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से मिला तो उन्होंने बजट अभाव में सड़क नवनीकरण का काम रोकने की बात कही।
ग्रामीणों ने बताई अपनी पीड़ा
&गांव से गुजरने वाली यह एक मात्र सड़क है। जिससे इस सड़क का गांव के लिए अधिक महत्व है। लेकिन पिछले काफी सालों से यह गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। जिससे आवागमन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
राजवीर कड़वासरा
& सड़क निर्माण को लेकर प्रशासन व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के समक्ष पिछले काफी समय से मांग कर रहे हंै लेकिन बजट के अभाव का हवाला देकर काम रोक रखा है। स्वीकृति व टेंडर तक की प्रक्रिया होने के बाद भी सड़क का सुधार नहीं हो रहा है।
सुभाष रावण
&सड़क गांव के जनजीवन का प्रमुख साधन है। राजगढ पचांयत समिति व सिधमुख तहसील को गांव से जोडऩे वाली एकमात्र सड़क है लेकिन प्रशासन जानबूझकर सड़क की अनदेखी कर रहा है।
अनिल सहारण
&सिधमुख तहसील का ढाणी बड़ी गांव राजगढ पचांयत समिति से तकरीबन 45 किमी दूरी पर है तथा राजगढ उपखंड के अन्तिम छोर पर बसा है, लेकिन फिर भी प्रशासन गांव के साथ सौतेला व्यवहार कर रहा है। यदि सड़क बनाई जाती है तो राजगढ़ व सिधमुख जाना आसान होगा।
गणेश कुमार शर्मा

Show More
Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned