ENG vs IRE : विली का 'पंजा', आयरलैंड की पूरी टीम 172 रन पर ढेर

David Willey के नेतृत्व में शानदार गेंदबाजी आक्रमण के बलबूते England ने Ireland की पूरी टीम को 172 रन पर समेट दिया है। अब उसे जीत के लिए निर्धारित 50 ओवर में 173 रन बनाने हैं।

By: Mazkoor

Updated: 30 Jul 2020, 10:15 PM IST

साउथेम्पटन : इंग्लैंड और आयरलैंड (England vs Ireland) के बीच गुरुवार को यहां एजेस बाउल मैदान पर खेले जा रहे एकदिवसीय सीरीज के पहले मैच में आयरलैंड (Ireland Cricket Team) की टीम टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरी थी, लेकिन वह इंग्लिश तेज गेंदबाज डेविड विली (David Willey) का कहर झेल नहीं सकी और पूरी टीम महज 172 रनों पर ढेर हो गई। इस तरह जीत के लिए इंग्लैंड को 173 रनों का लक्ष्य मिला है।

सिर्फ कैम्फर कर सकें विश्वास से इंग्लिश गेंदबाजों का सामना

आयरलैंड की टीम की पूरी पारी बेहद खराब रही। उसने लगातार अंतराल पर विकेट खोए। इस कारण वह बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर सकी। गनीमत यह रही कि एक तरफ से उसके मध्यक्रम के बल्लेबाज कर्टिस कैम्फर (Curtis Campher) ने डेब्यू मैच में ही कमाल का टेम्परामेंट दिखाया और अंत तक विकेट पर टिके रहे, जिस कारण आयरलैंड 172 के स्कोर तक पहुंच सकी। आयरलैंड की तरफ से वह इकलौते बल्लेबाज रहें, जिन्होंने अर्धशतक लगाया। वह 118 गेंद की अपनी संयम भरी पारी में नाबाद 59 रन बनाने में कामयाब रहे। इस दौरान उन्होंने सिर्फ चार बार गेंद को सीमा रेखा के पार भेजा। उनके अलावा ने 40, गैरेथ डेलेनी और केविन ओ ब्रॉयन ने 22-22 रनों का योगदान दिया।

इंग्लैंड के गेंदबाजों ने डेविड विली के नेतृत्व में शानदार गेंदबाजी की और उन्होंने किसी भी आयरलैंड के बल्लेबाज को खुलकर खेलने नहीं दिया। विली ने पांच, साकिब महमूद ने दो और आदिल रशीद तथा टॉम कुर्रन ने 1-1 विकेट लिया।

James Anderson ने साथी तेज गेंदबाज Stuart Broad की तारीफ की, बोले उन्हें भी छोड़ सकते हैं पीछे

 

इंग्लैंड ने युवा खिलाड़ियों पर लगाया दांव

इस एकदिवसीय मैच के लिए आयरलैंड ने अपनी मजबूत टीम उतारी है तो वहीं इंग्लैंड ने हाल ही में वेस्टइंडीज के खिलाफ (England vs West Indies) तीन टेस्ट मैच की सीरीज में खेले अधिकतर खिलाड़ियों को आराम दिया है। वेस्टइंडीज के खिलाफ विजडन ट्रॉफी में इंग्लैंड ने 2-1 से जीत हासिल की थी। इस टीम के महज दो खिलाड़ी जो डेनली (Joe Denly) और टॉम कुर्रन (Tom Curran) को एकदिवसीय टीम के अंतिम 14 में जगह मिली थी, जबकि अंतिम एकादश में महज एक खिलाड़ी हरफनमौला कुर्रन ही जगह बना पाने में कामयाब हुए हैं। इंग्लैंड इस मैच में कुछ एकदिवसीय क्रिकेट के विशेषज्ञ खिलाड़ियों के साथ एकदम युवा टीम लेकर उतरी है।

बता दें कि दोनों टीमों के खेली जा रही यह तीन एकदिवसीय मैच की सीरीज काफी अहम है। इसी सीरीज के साथ आईसीसी विश्व कप सुपर सीरीज (ICC World Cup Super Series) की शुरुआत हो रही है। 2023 तक चलने वाली इस सुपर सीरीज के जरिये ही 2023 में भारत में होने वाले एकदिवसीय विश्व कप (ICC ODI World Cup 2023) के लिए टीमें क्वालिफाई करेंगी।

दूसरा सबसे बड़ा ब्रेक

कोविड-19 (Coronavirus) महामारी के कारण विश्व क्रिकेट में लगे ब्रेक के 139 दिन (करीब पांच महीने) बाद यह पहली एकदिवसीय सीरीज खेली जा रही है। पिछला एकदिवसीय मुकाबला 13 मार्च को ऑस्ट्रेलिया बनाम न्यूजीलैंड खेला गया था।यह एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास में दूसरा सबसे बड़ा ब्रेक है। इससे पहले 1991 में दो वनडे मैचों के बीच 143 दिनों का अंतर देखने को मिला था।

Joe Root बोले, दो महान गेंदबाजों के साथ खेल रहे हैं, यह हमारा सौभाग्य की दोनों हमारी टीम में

दोनों टीमें इस प्रकार हैं :

इंग्लैंड : इयोन मोर्गन (कप्तान), जॉनी बेयरस्टो, जेम्स विंसे, जेसन रॉय, सैम बिलिंग्स, टॉम बेंटन, मोइन अली, डेविड विले, टॉम कुर्रन, आदिल राशिद और साकिब महमूद।

आयरलैंड : एंडी बालबर्नी, (कप्तान), पॉल स्टर्लिंग, गैरेथ डेलनी, हैरी टेक्टर, केविन ओ ब्रायन, लॉरकेन टकर (विकेटकीपर), सिमी सिंह, कर्टिस कैम्पर, एंडी मैक्ब्रायन, बैरी मैक्कार्थी और क्रेंग यंग।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned