scriptGanguly-Chapel controversyGanguly said Chappell's intention end carier | जानिए गांगुली-चैपल विवाद जिसके बारे में गांगुली ने कहा था मेरा कैरियर खत्म करना था चैपल का मकसद | Patrika News

जानिए गांगुली-चैपल विवाद जिसके बारे में गांगुली ने कहा था मेरा कैरियर खत्म करना था चैपल का मकसद

क्रिकेट को जेंटलमेन गेम कहा जाता है। हर मैच रोमांच से भरपूर होता है। दर्शक क्रिकेट मैदान पर लुफ्त उठाने आते हैं जहां छक्के और चौकों की बरसात होती है। लेकिन इसके दौरान कई विवाद भी जन्म लेते हैं जिसे समय-समय पर याद किया जाता है ऐसे ही एक विवाद की शुरुआत हुई थी 2005 में जिसने भारतीय क्रिकेट को ही नहीं वर्ल्ड क्रिकेट की दुनिया को हिला कर रख दिया था। बात हो रही है टीम इंडिया के तत्काल कोच ग्रेग चैपल और सौरव गांगुली विवाद की जिसके कारण टीम इंडिया के प्लेयरों में भी आपसी विवाद खड़ा हो गया था।

Published: October 29, 2021 03:59:31 pm

आइए नजर डालते हैं इस विवाद के हर पहलू पर

2005 में कोच जॉन राइट का कार्यकाल समाप्त होने के बाद इस बात की चर्चा होने लगी थी कि अब भारत का नया कोच कौन होगा? कोच पद की रेस में मोहिंदर अमरनाथ, डेव वाटमोर, टॉम मूडी, ग्रेग चैपल जैसे दिग्गज थे। सबको पछाड़ कर ग्रेग चैपल ने भारतीय कोच का पद संभाला। चैपल को कोच बनाने में सबसे बड़ा हाथ सौरव गांगुली का था, जो किसी भी हाल में चैपल को ही कोच पद पर देखना चाहते थे। अजहरुद्दीन के कप्तानी में भारतीय टीम मैच फिक्सिंग को लेकर काफी बदनामी झेल रही थी ,जिसके बाद सौरव गांगुली ने टीम का कमान संभाला था और टीम को दोबारा खड़ा किया था ।उस वक्त सौरव गांगुली ही टीम इंडिया के सबसे बड़े नाम थे। भारतीय टीम ने विदेश में अच्छा प्रदर्शन करने और निर्भीक होकर खेलना गांगुली के कप्तानी में ही सीखा था। लेकिन गांगुली यह बात नहीं जानते थे कि जिस चैपल को वे कोच बना रहे हैं एक दिन वही उनके राह का सबसे बड़ा रोड़ा साबित होंगे।

saurabh_greg.jpg

भारतीय टीम श्रीलंका में इंडियन आयल कप खेलने 2005 में गई थी ।इसी सीरीज से ग्रेग चैपल ने भारतीय टीम के कोच का पद संभाला था। स्लो ओवर रेट के कारण सौरव गांगुली पर चार मैचों का बैन लगा जिसके बाद टीम की कमान राहुल द्रविड़ को संभाल नहीं पड़ी और गांगुली की जगह टीम में सुरेश रैना और वेणुगोपाल राव को मौका मिला। सीरीज के खत्म होते हैं सौरव गांगुली के हाथ से सब कुछ निकल चुका था।

उस वक्त सौरव गांगुली का फॉर्म अच्छा नहीं चल रहा था| टेस्ट में पिछले 2 सालों में उनके बल्ले से एक भी शतक नहीं निकला था |इसके बाद कोच ग्रेग चैपल ने गांगुली को कप्तानी छोड़ बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करने को कहा था ,यह सुनने के बाद गांगुली पूरी तरह भड़क गए। उस समय के फॉर्म को देखकर चैपल ने कहा था अगर मेरा बस चले तो मैं गांगुली के जगह युवराज सिंह सुरेश रैना जैसे युवा बल्लेबाजों को मौका दूंगा। चैपल के इस बयान के बाद गांगुली ने जिंबाब्वे दौरा बीच में ही छोड़ने का मन बना लिया था लेकिन टीम मैनेजमेंट और द्रविड़ ने किसी तरह से गांगुली को मनाया था।

इसके बाद गांगुली को टीम से बाहर कर दिया गया था आगामी इंग्लैंड सीरीज और वेस्टइंडीज दौरे के लिए भी टीम में जगह नहीं मिली थी। साल 2006 में भारतीय टीम आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के लीग स्टेज से ही बाहर हो गई थी और साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में उसे 4-0 से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था। उसके बाद हुए टेस्ट सीरीज में गांगुली की वापसी हुई और इसमें गांगुली ने 87 रनों की पारी खेली थी। इसके बाद हुए श्रीलंका और वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में गांगुली ने लगभग 75 की औसत से रन बनाए। भारत का प्रदर्शन 2007 के वर्ल्ड कप में काफी निराशाजनक रहा था जिसका कारण ग्रेग चैपल और सौरव गांगुली के विवाद को ही माना जाता है। टीम इंडिया में एकजुटता का अभाव सीधा सीधा नजर आता था |हालांकि 2007 वर्ल्ड कप के बाद चैपल का करार खत्म हो गया। उनके पूरे कार्यकाल के दौरान भारतीय टीम हमेशा किसी न किसी विवाद से घिरा रहा।बाद में सौरव गांगुली ने कहा था ग्रेग चैपल का मकसद मेरे कैरियर को खत्म करने का था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

गुजरातः सोमनाथ मंदिर के पास सर्टिक हाउस के उद्घाटन पर बोले पीएम मोदी, तीर्थ स्थलों से बढ़ती है देश की एकताक्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्रT20 World Cup: टीम इंडिया का पूरा शेड्यूल, जानें कब और किस टीम से होगा मुकाबलाकेरल में एक दिन में सामने आए 46 हजार नए मामले, अब लगेगा कम्प्लीट लॉकडाउनप्रधानमंत्री 5 फरवरी को हैदराबाद में रामानुजाचार्य की 216 फुट ऊंची प्रतिमा का करेंगे अनावरण, 120 किलो सोने से बनी है ये प्रतिमातीन तलाक मामला-फोन पर बोला और तोड़ दिया रिश्ता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.