132 गेंद, 28 रन, 3 विकेट: इशांत शर्मा की बेहतरीन गेंदबाजी, पाटा विकेट पर उखड़े इंग्लिश बल्लेबाजों के कदम

132 गेंद, 28 रन, 3 विकेट: इशांत शर्मा की बेहतरीन गेंदबाजी, पाटा विकेट पर उखड़े इंग्लिश बल्लेबाजों के कदम

Akashdeep Singh | Publish: Sep, 08 2018 11:23:35 AM (IST) क्रिकेट

IND VS ENG TEST, इंग्लैंड के कप्तान जोए रूट ने सुबह टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया।

नई दिल्ली। भारतीय टीम ने इशांत शर्मा की शानदार गेंदबाजी की बदौलत ओवल मैदान पर खेले जा रहे पांचवें और आखिरी टेस्ट मैच के पहले दिन शुक्रवार को इंग्लैंड को उसकी पहली पारी में 198 रन पर सात विकेट आउट कर उसे संकट में डाल दिया। इंग्लैंड की टीम चायकाल तक एक विकेट पर 123 रन बनाकर मबजूत स्थिति में थी। लेकिन इसके बाद भारत ने तीसरे सत्र में जोरदार वापसी की और 75 रन के अंदर मेजबान टीम के छह विकेट आउट कर उसे बैकफुट पर ढकेल दिया।


इशांत की शानदार गेंदबाजी-
इशांत ने अपनी गेंदबाजी में बहुत सुधर किया है जिसके नतीजा है कि वह इस इंग्लैंड दौरे पर लगातार विकेट लेने में कामयाब रहे हैं। मैच के शुरूआती समय में जब भारतीय टीम को विकेट आसानी से नहीं मिल रहे थे तब इशांत ने रन नहीं खर्चे और इंग्लैंड को मैच में आगे नहीं निकलने दिया। टीम में सबसे सीनियर गेंदबाज इशांत ने 22 ओवरों में मात्र 28 रन खर्चे और 3 विकेट लिए। इशांत ने 10 ओवर मेडेन फेके और उन्होंने 1.27 कि इकॉनमी से गेंदबाजी की जोकि सभी भारतीय गेंदबाजों में सबसे कम है।


इशांत का सीरीज में प्रदर्शन-
इशांत ने इस पूरी सीरीज में सधी हुई और तीखी गेंदबाजी की है। इस पूरी सीरीज में इशांत सबसे सफल भारतीय गेंदबाज रहे हैं, अगर इंग्लैंड के भी गेंदबाजों को जोड़ लिया जाए तो वह दूसरे सबसे सफल गेंदबाज रहे हैं। उन्होंने इस सीरीज में 5 मैचों में 804 गेंदें फेकि हैं, 390 रन दिए हैं और 18 विकेट झटके हैं। उन्होंने एक बार पांच विकेट भी लिए हैं। मोहम्मद शमी ने 5 मैचों में 14 विकेट लिए हैं, जसप्रीत बुमराह ने 3 मैचों में 13 विकेट लिए हैं। गौर करने वाली बात यह है कि टॉप-5 में 3 गेंदबाज भारतीय हैं और वह भी तेज गेंदबाज।


मैच की स्थिति-
दिन का खेल समाप्त होने तक जोस बटलर 31 गेंदों पर एक चौके की मदद से 11 रन और आदिल राशिद 25 गेंदों पर एक चौके की सहायता से चार रन बनाकर नाबाद लौटे। अपने टेस्ट करियर का आखिरी मैच खेल रहे सलामी बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक (71) और कीटन जेनिंग्स (23) ने पहले विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी की। इसके बाद कुक और मोइन अली (50) ने लंच के बाद दूसरे सत्र में दूसरे विकेट के लिए 73 रन की साझेदारी की। मेजबान टीम ने इस सत्र में एक भी विकेट नहीं गंवाया और 55 रन जोड़े। मैच का दूसरा सत्र जहां पूरी तरह इंग्लैंड के नाम रहा तो वहीं तीसरा और आखिरी सत्र भारत के पक्ष में रहा। इशांत ने 3, बुमराह और रविंद्र जडेजा ने 2-2 विकेट झटके, शमी के पास अच्छी गेंदबाजी के बाद भी विकेट कॉलम में दिखाने को कुछ भी नहीं है।

Ad Block is Banned