अरे यह क्या! मैक्सवेल ने खुद किया खुलासा, विश्व कप के दौरान कर रहे थे हाथ टूटने की प्रार्थना

Glenn Maxewell ने बताया कि आईसीसी एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप के दौरान वह अवसाद से गुजर रहे थे और किसी भी कीमत पर टीम से बाहर होना चाहते थे।

Mazkoor Alam

25 Mar 2020, 04:50 PM IST

नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम (Australia cricket Team) के दिग्गज हरफनमौला ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxewell) ने पिछले साल अवसाद की वजह से करीब दो महीने तक हर तरह के क्रिकेट से ब्रेक ले लिया था। वापसी के बाद वह जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं। अब उन्होंने खुलासा किया है कि वह आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के दौरान वह मानसिक अवसाद से गुजर रहे थे। वह चाह रहे थे कि किसी तरह उन्हें मैच न खेलना पड़े। इसलिए वह अपने हाथ टूटने की प्रार्थना कर रहे थे।

कोरोना की जंग में पठान बंधु भी आए सामने, 4000 मास्क किए दान

हाल ही में मंगेतर विनी रमन से की है सगाई

ग्लैन मैक्सवेल ने कुछ दिन पहले बताया था कि मानसिक अवसाद से उन्हें निकालने में उनकी भारतीय मूल की गर्लफ्रेंड विनी विनी रमन ने काफी मदद की थी। हाल ही में उन्होंने उनसे सगाई की है। उन्होंने कहा कि अब जिंदगी में सबकुछ सही चल रहा है, लेकिन पिछले साल डिप्रेशन ने उन्हें तोड़कर रख दिया था। इसी दौरान उन्होंने बताया कि वह विश्व कप के दौरान किस अवस्था से गुजर रहे थे।

विश्व कप में चोट लगी तो खुश हो गया था

मैक्सवेल ने बताया कि विश्व कप के दौरान मानसिक तौर पर वह बहुत परेशान हो गए थे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच से पहले नेट सेशन में उनके और मिचेल मार्श दोनों के हाथ में चोट लगी थी। इस दौरान वह और मार्श दोनों साथ-साथ हास्पिटल गए। इस दौरान वह सोच रहे थे कि अब उन्हें क्रिकेट से ब्रेक मिल जाएगा और अपने हाथ टूटने की प्रार्थना कर रहे थे। मार्श की रिपोर्ट आई कि वह इतने चोटिल हैं कि वह विश्व कप में नहीं खेल पाएंगे तो उन्हें मार्श के लिए दुख हो रहा था। वह चाहते थे कि उनका हाथ टूट जाता। इसी बहाने उन्हें ब्रेक मिल जाता। उस वक्त वह अच्छा प्रदर्शन भी नहीं कर पा रहे थे और खुद पर गुस्सा भी खूब आता था।

सांसद निधि से दिल्ली सरकार को 50 लाख रुपए देंगे गंभीर, कहा- हथियार के बिना जंग नहीं जीती जाती

विनी की सलाह पर डॉक्टर को दिखाया

विश्व कप के बाद मैक्सवेल ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज मे खेले थे। इसमें उनका प्रदर्शन अच्छा रहा था, लेकिन उन्हें खुशी महसूस नहीं हुई। इसके बाद मैक्सवेल की मंगेतर विनी को लगा कि उन्हें मदद की जरूरत है। उसने ही सबसे पहले उनके भीतर बदलाव को महसूस किया। इसके बाद विनी की सलाह पर वह डॉक्टर से मिले। डॉक्टर ने उनहें क्रिकेट से संन्यास लेने की सलाह दी थी।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned