scriptRohit Sharma Slams ICC For Having Double Standards Pitch Rating Says Hope They Keep Their Ears And Eyes Open | IND vs RSA: केप टाउन की पिच पर ये क्या बोल गए रोहित शर्मा, ICC के रेफ़रीज़ के उड़ा दिये होश | Patrika News

IND vs RSA: केप टाउन की पिच पर ये क्या बोल गए रोहित शर्मा, ICC के रेफ़रीज़ के उड़ा दिये होश

locationनई दिल्लीPublished: Jan 05, 2024 02:25:14 pm

Submitted by:

Siddharth Rai

रोहित शर्मा ने मैच रेफरी और आईसीसी पर सवाल खड़े करते हुए उन्हें आड़े हाथ लिया है। रोहित शर्मा ने आईसीसी और मैच रेफरी को पिचों की रेटिंग के मामले में दोहरे मापदंड के लिए जिम्मेदार ठहराया है। रोहित ने मैच के बाद कहा, "मेरा मतलब है, हमने देखा कि इस मैच में क्या हुआ, पिच कैसा खेल रही थी। ईमानदारी से कहूं तो मुझे इस तरह की पिचों पर खेलने में कोई आपत्ति नहीं है।'

rohit_dean_1.png

Rohit Sharma Slams ICC on Pitch India vs South Africa: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरा और अंतिम टेस्ट मैच केपटाउन के न्यूलैंड्स क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया। इस मैच में भारत ने गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन की मदद से दक्षिण अफ्रीका को 7 विकेट हरा दिया। यह टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का अबतक का सबसे छोटा मैच था। इस मैच में कुल 107 ओवर फेंके गए। यानि यह टेस्ट मैच मात्र 642 गेंद में खत्म हो गया। ऐसे में कई लोगों ने केपटाउन की पिच पर सवाल खड़े किए हैं।

इसी बीच भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने मैच रेफरी और आईसीसी पर सवाल खड़े करते हुए उन्हें आड़े हाथ लिया है। रोहित शर्मा ने आईसीसी और मैच रेफरी को पिचों की रेटिंग के मामले में दोहरे मापदंड के लिए जिम्मेदार ठहराया है। रोहित ने मैच के बाद कहा, "मेरा मतलब है, हमने देखा कि इस मैच में क्या हुआ, पिच कैसा खेल रही थी। ईमानदारी से कहूं तो मुझे इस तरह की पिचों पर खेलने में कोई आपत्ति नहीं है।'

रोहित ने आगे कहा, 'जब तक भारत में हर कोई अपना मुंह बंद रखेगा और भारतीय पिचों के बारे में ज्यादा बात नहीं करेगा। क्योंकि आप यहां (टेस्ट क्रिकेट में) खुद को चुनौती देने के लिए आते हैं। हां, यह खतरनाक है। यह चुनौतीपूर्ण है। इसलिए, और जब लोग भारत आते हैं, तो यह भी काफी चुनौतीपूर्ण होता है।'

रोहित शर्मा ने कहा "जब हमारे सामने ऐसी चुनौती आती है, तो आप आते हैं और उसका सामना करते हैं। भारत में भी ऐसा ही होता है, लेकिन, भारत में पहले ही दिन अगर पिच टर्न लेना शुरू कर देती है, तो लोग 'धूल का झोंका! धूल का गुबार' के बारे में बात करना शुरू कर देते हैं। धूल!' यहां पिच पर बहुत अधिक दरार है। लेकिन, लोग उस पर ध्यान नहीं दे रहे हैं।'

रोहित ने मैच रेफ़रीज़ और हाल में वर्ल्ड कप के दौरान भारतीय पिचों को मिली रेटिंग्स पर ब्बात करते हुए कहा, 'मैं सोचता हूं कि यह महत्वपूर्ण है कि हम जहां भी जाएं, न्यूट्रल रहें। खातसौर से मैच रेफ़री। कुछ रेफ़रीज़ को इस बात पर नज़र रखनी चाहिए कि ये पिचेज़ को कैसे रेट करते हैं। यह महत्वपूर्ण है। मुझे अभी भी यक़ीन नहीं होता कि वर्ल्ड कप फ़ाइनल की पिच को बिलो ऐवरेज रेट किया गया था।

मैच के बाद रोहित ने कहा कि पिछले टेस्ट में हमने जो गलतियां की थी, उससे सीखते हुए हमने अच्छा प्रदर्शन किया। हमारे गेंदबाज़ों ने भी कमाल का प्रदर्शन किया। पहली पारी में हमारे पास लगभग 100 रनों की लीड थी। हालांकि यह उतना संतोषजनक नहीं था लेकिन पहले चार बल्लेबाज़ों ने काफ़ी बढ़िया प्रदर्शन किया था।

रोहित ने प्लेयर ऑफ द मैच मोहम्मद सिराज की सराहना करते हुए कहा,''सिराज ने कमाल का प्रदर्शन किया। हमने उन्हें चीज़ों को सरल रखने का संदेश दिया था। इसके अलावा बुमराह, मुकेश और प्रसिद्ध ने भी अच्छी गेंदबाज़ी की।' भारतीय कप्तान ने कहा,''यहां पर टेस्ट खेलना कहीं से भी आसान नहीं रहा है। हालांकि पिछले कुछ वर्षों में हमारी टीम ने विदेशी धरती पर अच्छा प्रदर्शन किया है।''

इस मैच के बाद संन्यास लेने वाले डीन एल्गर की सराहना करते हुए रोहित ने कहा,'' एल्गर ने अपनी टीम के लिए बेहतरीन योगदान दिया है। उनके जैसे खिलाड़ी काफ़ी कम ही मिलते हैं। मैं उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देना चाहता हूं।''रोहित ने पूरी टीम की तरफ़ से एल्गर को एक जर्सी गिफ़्ट की।

ट्रेंडिंग वीडियो