6 बच्चों की इश्कबाज मां प्रेमी को छोड़ 25 साल बाद पति के पास लौटी, जानिए क्यों?

-Love Story: एक कहावत है सुबह का भूला शाम को घर लौट आए तो उसे भुला नहीं कहते...। ऐसा ही एक मामला झारखंड ( Jharkhand ) के गढ़वा जिले से सामने आया है।
-यहां एक 30 की उम्र में 6 बच्चों की मां प्रेमी संग फरार ( Wife Run Away with Lover ) हो गई थी।
-जब उसे गलती का अहसास हुआ तो 25 साल बाद वापस घर लौट आई।
-हैरान करने वाला मामला केतार थाना क्षेत्र के जोगियाबीर गांव का है।

By: Naveen

Published: 22 Sep 2020, 05:21 PM IST

नई दिल्ली।
Love Story: एक कहावत है सुबह का भूला शाम को घर लौट आए तो उसे भुला नहीं कहते...। ऐसा ही एक मामला झारखंड ( Jharkhand ) के गढ़वा जिले से सामने आया है। यहां एक 30 की उम्र में 6 बच्चों की मां प्रेमी संग फरार ( Wife Run Away with Lover ) हो गई थी। जब उसे गलती का अहसास हुआ तो 25 साल बाद वापस घर लौट आई। हैरान करने वाला मामला केतार थाना क्षेत्र के जोगियाबीर गांव का है। जानकारी के अनुसार एक महिला 30 साल की उम्र में पति और अपने 6 बच्चों को छोड़कर प्रेमी ( Love Affair ) के साथ फरार हो गई थी। लेकिन, अब 25 साल बाद वह अपने पति और बच्चों के पास वापस लौटी है।

बच्चों को देखकर हुई भावुक
दरअसल, उसके प्रेमी की मौत होने के बाद उसे परिवार की कमी खलने लगी। ऐसे में वह 55 वर्ष की उम्र में वापस अपने घर लौट आई। हालांकि, पहले तो पति और बच्चों ने उसे अपनाने से इनकार कर दिया। बाद में ग्रामीणों के हस्तक्षेप के बाद उसे स्वीकार कर लिया। जैसे ही वह घर लौटी तो बेटा, बहू व पोतों और परपोतों को देखकर भावुक हो गई। इसके बाद उन्हें गले लगाकर फूट-फूटकर रोने लगी।

12 साल की लड़की ने सुसाइड नोट में लिखा...''मैं उसे किसी और के साथ नहीं देख सकती''

ग्रामीणों ने समझाया
महिला के पति का नाम नरेश साह है। गांव वालों की समझाइश के बाद परिजन उसे साथ रखने के लिए तैयार हो गए। पति नरेश साह और उसके बेटे और बहुओं ने कहा कि वह अब उनके साथ ही रहेगी।

6 बच्चों को छोड़कर हो गई थी फरार
जानकारी के अनुसार, 30 साल की उम्र में महिला के 6 बच्चे थे। इसी दौरान उसका छाना क्षेत्र के छाताकुंड निवासी विश्वनाथ साह के साथ प्रेम प्रसंग हो गया। इसके बाद दोनों फरार हो गए। उसके बाद से वह छत्तीसगढ़ के सीतापुर जाकर अपने प्रेमी के साथ रहने लगी।

''मुझे न्याय नहीं मिलेगा, क्योंकि मैं सुशांत नहीं...'' सुसाइड नोट में लिख युवक ने लगाई फांसी, मौत

प्रेमी की मौत
15 दिन पहले ही उसके प्रेमी विश्वनाथ की मौत हो गई। उसके बाद विश्वनाथ के परिजनों ने भी अपनाने से इनकार कर दिया। वह अकेली पड़ गई तो लौटकर वापस घर आ गई।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned