बड़ी खबर : सिंध नदी उफान पर, मंदिर और पुल डूबे, देखें वीडियो

बड़ी खबर : सिंध नदी उफान पर, मंदिर और पुल डूबे, देखें वीडियो

Gaurav Sen | Publish: Sep, 09 2018 03:50:54 PM (IST) Dabra, Madhya Pradesh, India

सिंध नदी उफान पर, मंदिर और पुल डूबे, देखें वीडियो

डबरा । मड़ीखेड़ा बांध के शुक्रवार को सुबह ८ बजे १० गेट खोले जाने व मोहनी सागर के २१ गेट खोले जाने के बाद सिंध नदी में जबरदस्त उफान आ गया है। जिससे नदी के किनारे बसे गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। जल संसाधन विभाग ने गेट खोले जाने के संबंध में कंट्रोल रूम और प्रशासन को सूचना दी कि नदी किनारे के गांवों को अलर्ट कर दिया । डैम से 5 हजार से अधिक क्यूबिक पानी छोड़ागया ।

 

डबरा और भितरवार में सिंध नदी के किनारे बसे गांवों को अलर्ट करने के लिए प्रशासन की ओर से सर्तकता अभी तक नहीं दिखाई गई है। यही कारण है कि दिनभर लोग डबरा से निकली सिंध नदी के पास पहुंचते रहे और बिना रोक टोक के नदी के बिल्कुल नजदीक पहुंचे और मौज मस्ती की। लेकिन प्रशासन को कोई अमला नहीं था ।

 

एनएच-७५ हाइवे पर डबरा सिंध पुल के नीचे से निकली सिंध नदी खतरे के निशान के नजदीक पहुंच गई है। लोगों ने बाताया कि १५ साल बाद सिंध नदी में ऐसा उफान आया है। जिसे देखने डबरा नगर से लोग पहुंचे। प्रशासन का कोई नुमाइंदा नहीं होने से बे रोक-टोक लोग नदी के नजदीक तक पहुंच गए और मौज मस्ती की। पत्रिका ने पहुंचकर यह नजारा देखा तो लोग पुल के ऊपर से झांकते हुए देखे गए और नीचे उतरकर नदी के समीप पहुंचे। ऐसे में नदी का तेज बहाव और तेज हो जाता तो लोग फंस सकते थे। देर शाम तक प्रशासन अलर्ट नहीं दिखा ।

नदी किनारे के गांवों को किया सतर्क

सिंध नदी के किनारे चांदपुर, रायपुर, गजापुर, लिधौरा, बेलगाढ़ा समेत पाली और सुनारी आदि गांवों में बाढ़ का खतरा बना है। सहराई रपटा समेत कई मार्गों में पानी आने से डबरा से उन गांवों का संपर्क टूट गया है। यहां रहने वालों को सतर्क किया गया है ताकि बाढ़ से पहले वे सुरक्षित हो जाएं ।

 

बडग़ोर पुल के ऊपर से पांच फीट पानी

बडग़ौर गांव, पपरेरु, डबरा सानी, धेरेटा, भैंसासुनारी, रायपुर सानी, दयाला, जरगंवा, रोंजिया, सेवढ़ा $खुर्द आदि करीब २४ गांवों का संपर्क टूट गया है। दरअसल इन गांवों के लोग इसी पुल से दतिया, शिवपुरी और भितरवार एवं डबरा पहुंचते थे जिससे पुल में पानी आने से उन गांवों का संपर्क टूट गया है ।

 

नौचोकिया डूबी, नदी का तेज बहाव

धूमेश्वर मंदिर की प्राचीन नौ-चोकिया तेज बहाव के कारण डूब गया है। मंदिर से नदी की दूरी अब ५० फीट रह गई है और लगातार जल स्तर बढऩे से मंदिर तक पानी पहुंच सकता है। धूमेश्वर मंदिर से निकली सिंध नदी का तेज बहाव बना है और वहां भी प्रशासन की सर्तकता नहीं देखने को मिली। वहां भी लोग पहुंचे और काफी समय बाद नदी में आए उफान को देखा ।

 

हरसी बेस्ट वियर चालू

वर्ष २०१६ के बाद वर्ष २०१८ में हरसी बांध लबालब हो गया है और क्षमता से अधिक भरने से उसका बेस्ट वियर चालू हो गया है जो कि नोन नदी और सिंध नदी में पहुंच रहा है जिससे इन नदियों में जबरदस्त उफान बना है। हरसी बांध में पानी ८६९.२० फीट चल रहा है ।

 

नहरों में छोड़ा पानी

हरसी बांध के लबालब होने से हरसी हाईलेवल नहर में दिन में पानी छोड़ दिया है। हरसी बांध प्रभारी एसडीओ मोहित जैन ने बताया कि हरसी हाईलेवल केनल में दिन में शुरूआत में १७७ क्यूसेक पानी छोड़ दिया गया है और रात में हरसी की नहरों में भी ३०० क्यूसेक पानी छोड़ दिया गया है ।

 

इधर, भितरवार में वार्ड क्रं.५ में रहने वालों को किया अलर्ट: नगर परिषद अध्यक्ष कमलेश शिवप्रताप ने बताया कि पार्वती नदी के समीप बसे वार्ड 5 में रहने वालों को अलर्ट कर दिया है और मुनादी लगाकर कहा है कि पार्वती नदी के पास न जाएं ।

 

सिंध पुल पर और नदी के समीप पहुंचने की जानकारी मिली थी जिसे लेकर पुलिस को निर्देशित किया है और जो भी गांव नदी के किनारें है उन गांवों में पटवारी के माध्यम से सूचना पहुंचाई जा रही है कि कोई भी नदी किनारे न पहुंचे ।
प्रदीप शर्मा, एसडीएम डबरा

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned