शहर के व्यस्तम मार्गों पर खोले बैंक ग्राहकों को बन रहे मुसीबत का सबब

पार्किंग व्यवस्था नहीं करने से हो रही परेशानी, नपा ध्यान दे रही न यातायात पुलिस

By: lamikant tiwari

Published: 13 Mar 2020, 10:56 PM IST

दमोह. शहर में मुख्य मार्गों के किनारे खोले गए बैंक ग्राहकों के साथ मुख्य मार्ग से निकलने वाले वाहन चालकों के लिए भी मुसीबत का सबब बने हुए हैं। हालांत यह हैं कि शहर के विभिन्न व्यस्ततम मार्गों पर स्थापित किए गए बैंक प्रबंधन द्वारा पार्किंग व्यवस्था का ध्यान नहीं रखा गया है। जिससे आने वाले ग्राहकों को हर स्वयं भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। शहर के हृदय स्थल सबसे व्यस्ततम क्षेत्र घंटाघर से पलंदी चौराहा जाने वाले मार्ग पर एसबीआई सिटी ब्रांच स्थापित है। यहां प्रथमतल पर होने के कारण मुख्य मार्ग पर ही वाहनों को खड़ा किया जाता है। जबकि यह मार्ग अधिक संकरा होने के बाद भी यहां सड़क पर वाहनों के खड़े होने से लोगों को आवाजाही में परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी तरह से अन्य मार्गोंे में भी यही स्थिति नजर आ रही है।
हर कोई होता है परेशान -
शहर के घंटाघर से पलंदी चौक जाने वाले मार्ग पर एसबीआई सिटी ब्रांच के बाहर वाहनों के खड़े रहने से यहां के दुकानदारों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। दुकानदारों ने पूर्व में कई बार बैंक मैंनेजर को भी कई बार अवगत कराया। लेकिन फिर भी बैंक प्रबंधन ने गंभीरता नहीं दिखाई। यहां रहने वाले लोगों को भी वाहनों के घर के सामने खड़े करने से आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसके साथ ही संकरा मार्ग होने से सड़क से निकलने वाले वाहन चालकों को भी परेशानी होती है। पूर्व में इसी जगह पर करीब आधा दर्जन से अधिक वाहन दुर्घटनाएं भी हो चुकी हैं। लेकिन अभी तक वाहनों की पार्किंग के लिए कोई उचित व्यवस्था नहीं कराई जा सकी, न ही कोई सुरक्षागार्ड तैनात किया गया। हालांकि मानस भवन के समीप पार्किंग स्थल भी लेकिन वहां वाहनों को खड़ा करने के लिए किसी ने ग्राहकों को जानकारी भी नहीं दी। जिससे बैंक आने वाला व्यक्ति बैंक के नीचे ही मुख्य मार्ग पर वाहन खड़ा करके सीधा बैंक में चला जाता है। इससे यातायात व्यवस्था भी प्रभावित होती है।
यहां भी चल रही मनमानी -
शहर के रेलवे स्टेशन से स्टेशन चौक जाने वाले मार्ग के दोनों ओर बैंक की शाखाएं स्थापित हैं। जिसमें निजी बैंक भी संचालित हैं। यहां भी मुख्य मार्ग पर वाहनों को खड़ा जा रहा है। बैंक में आने वाले ग्राहकों को वाहन रखने अलग से कोई जगह नहीं होने पर बैंक के बाहर ही वाहनों को खड़ा करने की मजबूरी बनी हुई है। लेकिन रेलवे स्टेशन आने - जाने वाले लोगों तथा यहां से निकलने वाले वाहन चालकों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यहां दिन भर में कई बार जाम के हालांत भी बनते हैं। नगर पालिका कार्यालय होने के कारण भी शहर भर के लोगों का आना जाना लगा रहता है। जिससे यह मार्ग भी अधिक व्यस्त रहता है, यही कारण है कि बैंक के नीचे खड़े वाहनों से जाम की स्थिति बनती रहती है।
यहां से निकलते हैं भारी वाहन -
शहर के एक और व्यस्ततम मार्ग राय चौराहा से पलंदी चौक जाने वाले मार्ग पर दो बैंक स्थापित हैं। यहां भी वाहनों की पार्किंग के लिए बैंक प्रबंधन द्वारा अलग से कोई व्यवस्था नहीं की गई। यहां कई बार आधे से अधिक मार्ग पर वाहनों की कतारें लग जाती हैं। जबकि यात्री बसों का इसी मार्ग से दिन भर आना जाना लगा रहता है। इसी बीच बैंकों में आने वाले ग्राहकों को भी वाहन दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। पूर्व में यहां कई घटनाएं भी हो चुकी हैं। लेकिन फिर भी पार्किंग का इंतजाम नहीं किया जा सका।
बैंक प्रबंधकों को आज ही देंगे लीगल नोटिस -
यह बात सही है कि बैंक में आने वाले वाहनों को सड़कों पर खड़ा करने से यातायात अवरुद्ध होता है। पूर्व में कई बार चालानी कार्रवाई भी की गई। बैंक प्रबंधकों को भी बताया। लेकिन उन्होंने गंभीरता से नहीं लिया। अब कल ही लीगल नोटिस भेजा जाएगा। उसके बाद फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
अभिनव साहू - यातायात प्रभारी

lamikant tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned