पहले ही डाल दिया था डीपी में सोसाइड नोट, परिजन ने कहा-नहीं मिल रहा था वेतन, जानिए पूरा सच

पहले ही डाल दिया था डीपी में सोसाइड नोट, परिजन ने कहा-नहीं मिल रहा था वेतन, जानिए पूरा सच

Laxmi Kant Tiwari | Publish: Sep, 04 2018 12:09:18 PM (IST) Damoh, Madhya Pradesh, India

रनेह थानांतर्गत नएगांव में मिला युवक का शव

दमोह जिले के हिंडोरिया थानांतर्गत गुंजी गांव निवासी एक युवक का शव संदिग्ध परिस्थितियों में रनेह थानांतर्गत नए गांव में मिला है। समीप ही उसकी बाइक पड़ी मिली है। हटा के एक टै्रक्टर एजेंंसी में मैंनेजर के पद पर कार्यरत युवक का शव मिलने के बाद उसके परिजनों ने ट्रैक्टर एजेंसी के मालिक पर प्रताडऩा का आरोप लगाया है। हालांकि मृतक के मोबाइल में डीपी में एक सोसाइड नोट भी छोड़ा है।
मामले में मृतक दीपक (25) के पिता जमना प्रसाद चौबे निवासी गुंजी नेआरोप लगाया है कि वह हटा में किसी गोलू सिंघई के यहां ट्रैक्टर एजेंसी में मैंनेजर के पद पर कार्य करता था। जिसे पिछले डेढ़ साल से उसका वेतन नहीं दिया था। वह अपनी की शादी के लिए रुपए उसी के पास जमा करता आ रहा था। लेकिन जब उसने रुपए मांगे तो उल्टा उस पर ही तीन लाख रुपए का कर्जदार बता दिया। जिससे वह परेशान था। यही वजह है कि उसने जहर खाकर जान दी होगी।

यह लिखा है सोसाइट नोट में -
आज अपनी जिंदगी खत्म करने चला हूं मैं, मौत के आगोश में समाने चला हूं मैं। बुरा मैं नहीं, बुरे हालात हैं, मेरा खुदा जाना है मेरा भला हूं मैं। ऐसा नहीं की जीने की कोशिश नहीं की मैंने जीने की, मैंने पथरीले रास्तों पर रेंग रेंगकर चला हूं मैं। एक चिंगारी सी मन मैं दबी थी मेरे, आज मिली हवा और जला हूं मैं। मालूम न था जिंदगी इतनी बेमतलब होगी, बचपन से बहुत नाजों से पला हूं मैं। मैंने समझा सबको किसी ने मुझे न समझा, बस इतना कहकर आज चला हूं मैं। कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,किसी की बेदर्दी का किस्सा सुनाया नहीं जाता, एक बार जीभरकर देख लो मुझे, क्योंकि बार-बार कफन उठाया नहीं जाता। जिंदगी तो हमेशा से ही बेवफा होती है। बस एक मौत ही बफादार होती है, जो सबको मिलती है।
मर्ग कायम कर जांच शुरू की-
मामले में पुलिस का कहना है कि वह मामले की जांच करा रहे हैं। प्रथम दृष्टया दमोह में शव परीक्षण कराया गया है। जिसकी रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। परिजनों के बयान भी दर्ज किए जा रहे हैं। युवक की मौत जहर खाने से हुई या फिर कुछ और कारण है। जैसे ही पीएम रिपोर्ट मिलेगी तो उस आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned