ट्रैक्टर की चपेट में आने से शंकर कोमा में

अतिक्रमण व अव्यवस्थाओं को लेकर समाजसेवियों ने सौंपा ज्ञापन

सेंवढ़ा. नगर में बुधवार की शाम हुई हृदय विदारक घटना में घायल शंकर सिंह कोमा में है। इधर घटना को लेकर नगर के नागरिकों और समाजसेवियों में आक्रोश व्याप्त है। गुरुवार को समाजसेवियों ने तहसीलदार साहिर खान को एसडीएम और कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा।


ज्ञापन में मुख्य रूप से लोडिंग वाहन एवं अन्य भारी वाहनों को नगर के बाजार की जगह बायपास से निकाले जाने, सुबह सात बजे से रात 10 बजे तक इस नियम का कड़ाई से पालन करने की मांग की गई। इसके लिए बायपास के दोनों सिरों पर बड़े और भारी वाहन एवं ड्राइवर लाइसेंस की जांच, नशे की हालत में हों तो चालकों के लाइसेंस निरस्त किए जाने का उल्लेख किया। तेज रफ्तार से गुजरने वाले वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया जाए।


ज्ञापन में यह भी उल्लेख किया कि सुबह जो ट्रैक्टर-ट्रॉली रेत को लेकर तेजी से गुजरते हैं उनको पूरी तरह से बंद किया जाए अवैध उत्खनन पर भी कार्रवाई की जाए। बायपास के दोनों सिरों पर 2-2 स्पीड ब्रेकर लगाए जाएं। इसके अलावा नगर में अन्य स्थानों पर स्पीड ब्रेकर बनवाए जाएं। घटना के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई हो। नगर में पार्किंग पॉइंट बनाए जाएं, सवारी एवं स्कूल वाहनों पर क्षमता से अधिक सवारी ले जाने की सतत निगरानी एवं उन पर कार्रवाई हो। बता दें कि बुधवार की शाम नगर के मुख्य बाजार में हृदय विदारक घटना में ट्रैक्टर चालक की लापरवाही से निर्दोष छात्रा एवं एक महिला की मौत हो गई। गंभीर रूप से घायल व्यक्ति शंकर सिंह कोमा में हैं, जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है। ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से दीपक यादव, अनिल शर्मा, कुलदीप यादव, अनिल पुजारी, रंजीत बघेल, कमल किशोर, महेश बघेल, रवि राजपूत, नरेश साहू आदि शामिल रहे।

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned