परिजनों ने शव को रखकर लगाया हाईवे पर जाम

मजदूर की मौत पर हंगामा, पुलिस व सरपंच के जेठ की गाड़ी पर पथराव

By: monu sahu

Published: 04 Jan 2018, 11:16 PM IST

दतिया. नुनवाहा सरपंच के ट्रैक्टर-ट्रॉली की चपेट में आने से रेत भर कर ला रहे मजदूर की मौत हो गई। बुधवार की शाम हुई घटना के बाद ट्रैक्टर मालिक व भाजयुमो का पूर्व मंडल अध्यक्ष अपनी कार में शव को डालकर सीधा अस्पताल जा पहुंचा। अचानक हुई इस वारदात से मृतक के परिजनों ने आक्रोशित होकर मृतक के शव को हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया। देखते ही देखते मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। उप्र से भी उपद्रवी पहुंचे। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस जैसे ही सामने पहुंची कि उपद्रवियों ने सरपंच के जेठ व गाड़ी व पुलिस की गाड़ी पर पथराव कर दिया जिससे शीशे टूट गए।

पुलिस के मुताबिक भाजपा नेता मुकेश प्रजापति की अनुज वधु व नुनवाहा सरपंच रजनी प्रजापति के ट्रैक्टर-ट्राली से रेत भरकर नेशनल हाईवे के पास बन रही बाउंड्रीवॉल के लिए लाई गई थी। ट्रैक्टर पर मजदूरी करने वाले आदिवासी डेरा निवासी बबलू अहिरवार(18) की उस वक्त ट्रैक्टर नीचे आने से मौत हो गई जब वह वाहन को खड़ा करने के लिए उसमें पत्थर लगा रहा था। बुधवार की देर शाम हुई घटना के बाद वाहन मालिक ने मृतक के परिजनों को सूचना दिए ही शव को कार में डालकर अस्पताल ले गए । इससे मृतक के परिजन आक्रोशित हो गए।

अंतिम संस्कार तक जमी रही पुलिस

पहले तो केवल जिगना थाना पुलिस बाद में एएसपी सुरेन्द्र सिंह गौर समेत बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। यहां दो तरफ करीब दो किलोमीटर लंबा जाम लग चुका था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पुलिस ने ने मौजूद लोगों को हटाने के लिए न केवल लाठी चार्ज किया बल्कि उपद्रवियों को खदेडऩे के लिए हवाई फायर भी किए। जाम हटाने के बाद भी करीब ढाई बजे तक पुलिस के अधिकारी मृतक के अंतिम संस्कार तक जमे रहे।

पुलिस को करना पड़ा बल प्रयोग


जैसे ही मृतक के शव को घर ले जाया गया तो परिजनों ने नेशनल हाईवे क्रमांक 25 पर सिकंदरा तिराहे पर रख कर जाम लगा दिया। हालात ये बने कि परिजनों के कई रिश्तेदार सीमावर्ती झांसी जिले से भी जा पहुंच गए। जाम के दौरान जैसे ही जिगना थाना पुलिस ने सड़क से हटाने की कोशिश की तो आक्रोशित भीड़ ने न केवल सरपंच के जेठ की गाड़ी तो तोड़ दिया बल्कि पुलिस वाहन पर भी पथराव कर दिया। हालांकि हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को भी बल का इस्तेमाल करना पड़ा। इस दौरान भीड़ पर लाठियां भी चलाईं । सूत्रों के मुताबिक यहां पुलिस ने फायर भी किए। इस दौरान पुलिस ने वीडियो भी बनाया। इसी आधार पर आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी।

उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। हालांकि फायर नहीं किए गए। पुलिस उपद्रवियों के खिलाफ बलवा व शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज करेगी इसके लिए वीडियोग्राफी की गई है।


मयंक अवस्थी, पुलिस अधीक्षक

monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned