गांवों में भी पैर पसारने लगा कोरोना, एक माह बाद दोबारा लालसोट में कोरोना की दस्तक

दिल्ली से लौटा लाखनपुर निवासी एक जना आया कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए 19 जनों को भेजा क्वारींटन में

By: Rajendra Jain

Updated: 23 May 2020, 07:08 AM IST

लालसोट. शहरी क्षेत्र के बाद अब कोरोना वायरस का संक्रमण धीरे-धीरे ग्रामीण इलाकों की ओर पैर पसारने लगा है । शुक्रवार सुबह जहां लाखनपुर गांव निवासी एक जना कोरोना पॉजिटिव पाया गया था, वहीं शाम को निर्झरना गांव के कुम्हार मोहल्ले का निवासी एक जना कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. धीरज शर्मा ने बताया कि कोरोना पाजिटिव पाया गया यह व्यक्ति 19 मई को गुजरात के अहमदाबाद से अपने गांव लौटा था। एक रात को गांव में रुकने के बाद 20 मई को इसकी लालसोट जांच की गई थी। इसके बाद से यह बगड़ी क्वारंटीन सेंटर में था । उन्होंने बताया कि इसके साथ कुल 7 जने आए थे और ये सभी बगड़ी क्वारंटीन में ही मौजूद है। इस बारे में जानकारी मिलते ही चिकित्सा विभाग व उपखंड प्रशासन के अधिकारी सतर्क हो गए और बगड़ी क्वारंटीन सेंटर पर नियुक्त महेश कुमार शर्मा व आशुतोष शर्मा ने कोरोना संक्रमित को जिला चिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया। (नि.प्र)

लालसोट. क्षेत्र में एक माह बाद फिर कोरोना वायरस ने दस्तक दे डाली है। देश की राजधानी नई दिल्ली से गत दिनों लौटा लाखनपुर गांव की बैरवा बस्ती निवासी एक जना कोरोना पॉजिटिव आया है। इससे एक बार दोबारा प्रशासन व चिकित्सा विभाग की मुश्किलें बढ़ा दी है। ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. धीरज शर्मा ने बताया कि लाखनपुर गांव की बैरवा ढाणी निवासी एक जना 17 मई को दिल्ली से कार में सवार होकर अपनी पत्नी व साले के साथ लौटा था, यह तीनों गांव लौटने के बजाय रामगढ पचवारा क्षेत्र के जगनेर नेहड़ी गांव की बैरवा बस्ती में अपने ससुराल में पत्नी व साले के साथ पहुंच गया। जहां इसे टायफाइड की शिकायत होने पर ससुराल पक्ष के लोग जिला चिकित्सालय ले गए। जहां कोरोना के लक्षण पाए जाने पर उसकी जांच की गई थी और जांच के बाद उसे वहीं रखा गया था। कोरोना पॉजिटिव की जानकारी मिलते ही ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी के साथ ब्लॉक हैल्थ सुपरवाईजर सुंदर सिंह टीम व पुलिस बल के साथ लाखनपुर गांव की बैरवा बस्ती जा पहुंचे। यहां जब उसके परिजनों ने कोरोना पॉजिटिव के यहां नही आने व उसके ससुराल में जाने की जानकारी दी तो रामगढ पचवारा उपखण्ड अधिकारी सरिता मलहोत्रा, पुलिस व चिकित्सा विभाग का दल जगनेर गांव की बैरवा बस्ती भी जा पहुंचा और उक्त कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने वाले लोगों को जांच के लिए लालसोट पहुंचाया। शर्मा ने बताया कि पांच परिजनों को ऐतिहात के तौर पर होम आइसोलेशन पर रखा गया है और उसकी पत्नी, पुत्री समेत सीधे संपर्क में आने वाले 11 जनों व 8 अन्य जनों को सैम्पल के लिए लालसोट लाया गया। जहां जांच के बाद क्वारंटीन में भेज दिया गया। गौरतलब है कि गत माह 21 अप्र्रेल को लालसोट शहर में कोरोना पॉजिटिव के पांच मामले सामने आए थे। जिनमें दो मासूम बालिकाएं व तीन अन्य जने शामिल थे। उसके ठीक एक माह बाद लालसोट क्षेत्र में कोरोना पॉजिटिव का एक नया मामला सामने आया है। (नि.प्र)

Corona virus
Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned