रेलवे स्टेशन के द्वार पर अंधेरा

manish sharma

Publish: Apr, 17 2018 10:23:10 AM (IST)

Dausa, Rajasthan, India
रेलवे स्टेशन के द्वार पर अंधेरा

लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया

बसवा. कस्बे में रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार पर अंधेरा रहने के कारण रोजाना यात्रा करने वाले लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। कस्बे में रोजाना हजारों लोग सुबह शाम जयपुर , दिल्ली, दौसा, अलवर की यात्रा करते हैं।
रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार पर बिजली के दो खम्भे लगा रखे हैं, लेकिन कई माह से खम्भे पर लगी लाइट खराब पड़ी है। इस कारण मुख्य द्वार पर अंधेरा छाया रहता है।

अनिल मिश्रा ने बताया कि रात को नौ बजे ट्रेन से उतरकर जब घर जाते हैं तो अंधेरे में गिरने का डर रहता है। जगह जगह रोड पर गड्ढे होने से लोग गिरकर घायल हो जाते हैं। यात्री दिनेश सैनी ने कहा कि कुछ दिन पूर्व गेट पर लाइट लगवाने के लिए स्टेशन अधीक्षक को ज्ञापन दिया था, लेकिन आज तक लाइट नहीं लगाने से समस्या जस की तस बनी हुई है। स्टेशन पर दोहरीकरण का कार्य चल रहा है।
ऐसे में रास्ते में जगह-जगह सामान डाल रखा है। इसको लेकर लोगों ने रेलवे के अधिकारियों के खिलाफ नारे लगाकर लाइट लगाने की मांग की है। इस मौके पर पूरण साहू, सतीश योगी, बबली योगी, मोहन साहू, महेश सैनी, गिराज सैनी, पप्पू सैनी आदि मौजूद थे।


किसान संघ ने सौंपा ज्ञापन
बांदीकुई. भारतीय किसान संघ की ओर से जिलाध्यक्ष रामनिवास मीना के नेतृत्व में सोमवार को उपखण्ड अधिकारी चिम्मनलाल मीणा को मुख्यमंंत्री के नाम ज्ञापन सौंप किसानों की समस्याओं के समाधान की मांग की। उन्होंने बताया कि कृषि उपज मण्डी में चने व गेहंू की खरीद नहीं की जा रही है।

मण्डी समिति में सरसों की खरीद भी सुनियोजित ढंग से नहीं करके सरकार के नियमों का हवाला देते हुए किसानों को परेशान किया जा रहा है। मण्डी समिति सचिव को भी अवगत करा चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। बसवा तहसील में नामांतकरण नहीं खोले जा रहे।

नामान्तकरण के अभाव में कृषि कार्ड बनवाने से वंचित होना पड़ रहा है। केसीसी के जरिए चारा व गेहंू भी नहीं खरीदा जा रहा है। तहसील अध्यक्ष भगवानसहाय यादव, उपाध्यक्ष प्रभुदयाल, जिला प्रवक्ता राजकिशोर, लल्लूराम, इन्द्राज, कैलाशचंद, हीरालाल एवं लक्ष्मणराम शामिल थे। (नि.सं.)

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned