रूकमणी-कृष्ण विवाह में किया कन्यादान

रूकमणी-कृष्ण विवाह में किया कन्यादान

Rajendra Kumar Jain | Publish: May, 18 2019 11:42:47 AM (IST) Dausa, Dausa, Rajasthan, India

भागवत कथा ज्ञानयज्ञ

कुण्डल. ग्राम पंचायत कालीपहाडी के दांतली गांव के बालाजी मन्दिर पर चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा ज्ञानयज्ञ में शुक्रवार को रूकमणी-कृष्ण विवाह में श्रद्धालुओं ने बढ़-चढ़कर कन्यादान किया। कन्यादान करने के लिए लोगों में होड़ मची रही।

कथावाचक हरिद्वार आश्रम के संत विवेकानन्द ने कहा कि भागवत श्रवण मात्र से मनुष्य को लक्ष्मी की प्राप्ति होती है। भागवत श्रवण मनुष्य के मोक्ष का द्वार है। भगवान की तन-मन से भक्ति करने पर उसे फल की प्राप्ति अवश्य होती है। उन्होंने रासलीला, कंस वंध, कृष्ण-रूकमणी विवाह का प्रसंग सुनाया। भजनों पर श्रद्धालुओं ने जमकर नृत्य किया। इस मौके पर सीताराम पांचाल, बाबूलाल शर्मा, रामनाथ मीना, विनोद शर्मा, अंगद गुर्जर, कल्लू जोगी, संत कृपालानन्द सरस्वती, भगवान सहाय जांगिड़ आदि मौजूद थे।

श्रीराम दरबार व काली माता की मूर्ति का पंचामृत
दुब्बी . कस्बे के गांव कांदोली में शुक्रवार को मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा आचार्य दीपक शर्मा ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ कराई। श्रीराम दरबार व काली माता की मूर्ति का पंचामृत व दुग्ध से स्नान कराकर प्राण प्रतिष्ठा करवाई । इस दौरान भजन संध्या का भी आयोजन किया गया। श्रद्धालुओं ने पंगत लगााकर प्रसादी ग्रहण की। नानगराम सैनी, किशनलाल, लल्लूराम आदि मौजूद थे।

गोपाल मंदिर में श्रीराम महायज्ञ 20 से
लवाण. कस्बे में गोपालजी मन्दिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर पांच कुण्डीय श्रीराम महायज्ञ का आगाज 20 मई को होगा। इससे पहले मन्दिर में 108 रामायणजी के पठन चल रहे है प्रधान कुण्ड की बोली 3 लाख 21 हजार में रामेश्वरसिंह चौहान, रूद्रकुण्ड की 71 हजार, ध्वज की 85 हजार राजेश चौहान और कलश की 33 हजार में बोली छूटी है। बाकी कुण्डों की बोली 61 हजार रुपए में छूटी।महायज्ञ को लेकर जोर-शोर से तैयारी चल रही है यज्ञ में वेदियां बनाने का काम भी चल रहा है। रघुवीरसिंह बुन्देला व रामेश्वरसिंह ने बताया कि 19 मई से 25 मई तक रात आठ बजे से कलाकारों द्वारा रासलीला का मंचन किया जाएगा।

विधिक साक्षरता शिविर आयोजित
दौसा. राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दौसा की ओर से गुुरुवार को शहर के वार्ड नंबर 18 स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र पर विधिक साक्षरता शिविर आयोजित हुआ। शिविर में प्राधिकरण सचिव रेखा वधवा ने उपस्थित लोगों को बच्चों के कम उम्र में विवाह करने से जीवन पर पडऩे वाले दुष्प्रभावों के बारे में बताते हुए कहा कि बालविवाह एक सामाजिक बुराई है एवं कानूनन दण्डनीय अपराध है। ऐसे में बाल विवाह करने वालों, करवाने वालों एवं बाल विवाह में शामिल होने वालों को दो वर्ष तक के कठोर कारावास एवं एक लाख रुपए के जुर्माने से दण्डित किए जाने का प्रावधान है। इसमें शामिल लड़के व लड़की के माता-पिता, पुजारी, मौलवी, रिश्तेदारों, टेण्ट वाले, बैण्ड वालों, हलवाई, फोटोग्राफर, नाई एवं बारातियों को भी दण्डित करने का प्रावधान है।
उन्होंने नालसा नई दिल्ली द्वारा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों, वरिष्ठ नागरिकों एवं बच्चों को मैत्रीपूर्ण एवं उनके सरंक्षण के लिए बनाई योजनाओं की जानकारी दी।

वहीं प्राधिकरण की ओर से 13 जुलाई को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत में न्यायालय में चल रहे राजीनामा योग्य प्रकरणों को आपसी समझाइश से निस्तारित करने के लिए प्रेरित किया। प्राधिकरण की ओर से बुधवार को सोमनाथ मंदिर दौसा पर विधिक जागरूकता शिविर में बाल विवाह अवरोध से संबंधित पम्फलेट बांटे गए। (ग्रामीण)

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned