मनरेगा श्रमिकों ने किया कार्य का बहिष्कार

झांपदा ग्राम पंचायत

By: Rajendra Jain

Published: 16 Oct 2020, 10:57 PM IST

लालसोट (दौसा) . झांपदा ग्राम पंचायत के नव निर्वाचित सरपंच प्रीतम सिंह द्वारा मनरेगा कार्य स्थल पर श्रमिकों को धमकाने और व इसके वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया है। मामले को लेकर शुक्रवार को ग्रामीणों का रोष फूट पड़ा और मनरेगा श्रमिकों ने कार्य का बहिष्कार कर मौके पर प्रदर्शन किया। इस मामले को लेकर लालसोट थाने में सरपंच के खिलाफ अपमानित करने का मामला भी दर्ज कराया गया है।

दो दिन पूर्व झांपदा ग्राम पंचायत के नव निर्वाचित सरपंच प्रीतम सिंह द्वारा नालावास गांव में तलाई खुदाई के मनरेगा कार्य स्थल पर श्रमिकों व ग्रामीणों केे साथ विवाद की घटना हुुई थी, इस घटना के वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। शुक्रवार सुबह सभी मनरेगा श्रमिकों व ग्रामीणों ने कार्य का बहिष्कार कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। बाद में दर्जनों ग्रामीणों ने लालसोट पहुंच एसडीएम गोपाल जांगिड व पुलिस सीओ सतीश यादव को ज्ञापन दे कर सरपंच के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करते हुए कानूनी कार्रवाई की मांग की। इस दौरान नवल निमावत ,शम्भूलाल मीना, कन्हैयालाल नालावास, रामू ठेकेदार ,रविकांत नकवाल , डी. आर. मीना ,कल्याण ,रामफूल, गुलाब चंद, देशराज नकवाल, रामअवतार मीना ,मोहन बैपलावत, सीताराम आडोल्या समेत कई ग्रामीण मौजूद रहे। रामोतार मीना ने लालसोट थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है कि वह 14 अक्टूबर को सरपंच प्रीतम सिंह मौके पर आए और उन्होंने अमर्यादित भाषा व जातिसूचक शब्दों से अपमानित किया। एसएचओ महावीर प्रसाद ने बताया कि प्राथमिकी मिल गई है।
इधर सरपंच ने भी राजकार्य में बाधा डालने, मनरेगा कार्य को बंद कराने व ग्रामीणों को भड़काने के आरोप लगाते हुए शुक्रवार को ही लालसोट पुलिस, विकास अधिकारी व उपखण्ड अधिकारी को पत्र दिया है। पत्र में सरपंच ने बताया है कि वह 14 अक्टूबर को मनरेगा कार्य के अवलोकन के लिए नालवास गांव में गए थे, इस दौरान रामवतार मीना ने उसके साथ गाली गलौच की। जबकि रामवतार का नाम मस्टररोल में भी नाम नहीं था।


गार्ड व सुपरवाइजर की भर्ती के लिए लगेंगे शिविर
दौसा. शिक्षित बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान के लिए जिले की 6 पंचायत समितियों पर भर्ती शिविर का आयोजन होगा। सीईओ एल के बालोत ने बताया कि बांदीकुई में 29 अक्टूबर को एवं सिकराय में 30 को , महवा में 31 को, लवाण में 01 नवम्बर को, लालसोट में 02 नवम्बर को एवं दौसा में 03 नवम्बर को प्रात: 10 से सायं 4 बजे तक शिविर का आयोजन किया जाएगा। (ग्रामीण)

ग्रामीणों ने राष्ट्रीय पक्षी को बचाया
सिकंदरा. छोकरवाड़ा गांव में भैरू वाली ढाणी में घायल राष्ट्रीय पक्षी को ग्रामीणों ने मशक्कत कर बचाया। ग्रामीण राजू बांसरोटा, मोहरसिंह गुर्जर, रामभरोसी गर्जर ने बताया कि राष्ट्रीय पक्षी मोर पीपल के पेड़ से गिरकर घायल हो गया था। मोर पर आवारा श्वानों ने हमला कर दिया। ग्रामीणों ने मशक्कत कर मोर को बचाया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना जिला वन अधिकारी को दी।

Rajendra Jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned