फ्रेंड्स के साथ जरूर जाएं अंडमान के टुर पर

"स्कूबा डाइविंग"की ट्रेनींग के लिए एड्मिशन लेना होगा जहां 20 मिटर समंदर के नीचे जाने की ट्रेनींग दी जाती है

बचपन में किताबों में अंडमान निकोबार के बारे में लगभग सभी ने पढ़ ा होगा, लेकिन इस जगह की खुबसूरती उन किताबों से बहुत उपर है। इंडिया की हर जगह से अलग अंडमान निकोबार सदियों से अपनी अप्राप्यता के कारण एक रहस्य बना हुआ है। बंगाल की खाड़ी पर बसा अंडमान अपनी अलग ही प्राकृतिक खूबसुरती और सुरम्यता लिए है। अंडमान अपने उत्री हिस्से से 700 किमी बंगाल की खाड़ी तक नीले पानी में ढंका हुआ है। पूर्व में भारत के 572 तक पन्ना द्वीप समुह से भरा हुआ है। जिसमें से 16 द्वीप समूह बसे हुए हैं। जहां खुबसूरत टापू और चट्टानें हैं।

अंडमान निकोबार आजादी की लड़ा ई के दिनों से ही अपनी जगह बनाए हुए है। यहां का इतिहास यहां की जगहों जैसे सेल्युलर जेल, रोस आयरलेंड, वाइपर आयरलेंड, हॉपटाउन, माउन्ट हारिएट की वजह से आज भी लोगों को अपनी ओप खिंचता है। अंडमान निकोबार बर्ड एेरिया माना गया है। 270 तरह के पक्षी यहां पर मौजूद हैं जिनमें से 106 यहां के स्थानीय पक्षी हैं। लकड बग्गा यहां का राष्ट्रीय पक्षी है। यहां लगभग 96 वन्यजीव अभ्यारण हैं और 9 नेशनल पार्क हैं। महात् मा गांधी मरीन नेशनल पार्क सबसे फेमस अभ्यारण है। अंडमान की जनसंख्या लगभग 3,79,944 है और यहां की साक्षरता दर लगभग 86.27 है।

पोर्ट ब्लेयर पहुंचने के लिए हवाइ यात्रा ही सबसे सही तरीका है। यह चेन्नई, कलकत्ता, भुवनेश्वर और दिल्ली से कनेक्टेड है। चेन्नई, क लकत्ता और विशाखापटनम स रेगुलर शिप सर्विस भी है। नोकायन की सर्विस हर महिने विशाखापटनम से है जो लगभग 50 से 60 घंटों का सफर तय करके पोर्ट ब्लेयर पहुंचाती है। शिप का किराया श्रीलंका के लोगों के लिए डिलक्स कमरे का 4140 से 750 साधारण कमरे का है। श्रीलंका के बाहर के लोगों के लिए यह किराया लगभग दोगुना है। पानी के प्लेन की सवारी भी आपको ऎड्वेंचरस लगेगी। इस प्लेन में बड़ी-बड़ी खिड़कियां लगी हुई हैं जिससे पोर्ट ब्लेयर का नजारा एक सपनों की जगहों जैसा लगता है। सी प्लेन का किराया लगभग 7000 से 4000 तक का होता है।

ज्यादातर दोस्त अपनी दोस्त मंडली के साथ या हनीमुन कपल्स अंडमान निकोबार के महेमान बनते हैं। यदि दोस्तों के साथ गए हैं तो "स्कूबा डाइविंग" पानी के अंदर की डाइव अंडमान निकोबार का एक खास एड्वेंचर है। "स्कूबा डाइविंग" के लिए 5000 तक की फिस और तैरना आना जरूरी है। आपको "स्कूबा डाइविंग"की ट्रेनींग के लिए एड्मिशन लेना होगा जहां 20 मिटर तक समंदर के नीचे जाने की ट्रेनींग दी जाती है। इसके बाद आपका "स्कूबा डाइविंग" के सफल एड्वेंचर का सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।

अन्डमान निकोबार के पोर्टब्लेयर जाने का अच्छा समय मार्च से मई के बीच में है जो लगभग हर स्कुल और कोलेज के वेकेशन का टाइम है। तो इस बार की गरमी की छुट्टीयों का वेकेशन तो पोर्टब्लेयर में ही बनता है।
प्रियंका चंदानी
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned