सस्ते होंगे जमीन-आशियाने: बिल्डर—विकासकर्ताओं के लिए राहत भरा आदेश

सस्ते होंगे जमीन-आशियाने: बिल्डर—विकासकर्ताओं के लिए राहत भरा आदेश

Sunil Sharma | Publish: Sep, 15 2017 01:43:47 PM (IST) डेवलपिंग एरिया

बाहरी क्षेत्र में आरक्षित दर 6 हजार तक कम

नई दिल्ली/जयपुर। मंदी से जूझ रहे रियल एस्टेट कारोबार और विल्डर—विकासकर्ताओं को राहत देने के लिए जेडीए ने आरक्षित दर में कमी कर दी है। आरक्षित दर शहर के बाहरी इलाकों में कम की गई है, जबकि घनी आबादी वाले क्षेत्रों में यथावत रखी है। इसमें 6 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर तक दर में कमी की है। इनमें ज्यादातर नगर निगम सीमा के आखिरी हिस्से से आगे का क्षेत्र शामिल है, जहां आरक्षित दर बहुत ज्यादा थी। इससे सबसे ज्यादा राहत बिल्डर—विकासकर्ताओं को मिलेगी, जो लम्बे समय से दरों में कमी करने की मांग कर रहे थे।

जेडीए अध्यक्ष व नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने जेडीए के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। जेडीए ने भी गुरुवार को इसके आदेश जारी कर दिए। इससे जमीन व आशियाने की लागत कुछ हद तक कम हो जाएगी। बशर्ते, विकासकर्ता या बिल्डर जनता को सीधे तौर पर इसका फायदा पहुंचाएं। जेडीए ने पहली बार सडक़ चौड़ाई बढऩे के आधार पर आरक्षित दर तय की है।

आरक्षित दरें कम होने से विकासकर्ताओं को सर्वाधिक लाभ उन जमीन पर नए प्रोजेक्ट लाने में मिलेगा। कारण, जमीनों की 90 ए, लीज गणना बिल्डिंग प्लान व ले-आउट प्लान मंजूरी करवाने में लगने वाला शुल्क और जमीन की लीज राशि की गणना अब संशोधित आरक्षित दर से होगी।

समझें... क्या है यू एरिया और कम दर
मास्टर प्लान में जेडीए परिधि क्षेत्र को तीन भागों में बांटा गया है, इसमें यू—1, यू—2 व यू—3 शामिल है। यू-1 एरिया नगर निगम सीमा तक का हिस्सा है। यू-2 एरिया नगर निगम सीमा के आखिर छोर से जेडीए के उस हिस्से तक आता है जहां आबादी कम है। करीब—करीब रिंग रोड की परिधि के भीतरी हिस्से तक। वहीं, यू-3 एरिया पूरी तरह ग्रामीण क्षेत्र है।

2015 में बढ़ी थी
जेडीए ने सितम्बर, 2015 में जमीनों की आरक्षित दरों में अप्रत्याशित वृद्धि की थी। बिल्डर भी जमीनों की आरक्षित दरों को कम करने के लिए कई बार सरकार व जेडीए को कहते रहे।

ग्रामीण इलाका
जोन 11: 6 हजार रुपए से घटाकर 4 हजार रुपए और जोन 12 में 6 हजार से घटाकर 5 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर

यहां कम हुई दर
कालवाड़ रोड... (250 मीटर दोनों साइड हाथोज तक)— 16 से घटाकर 14 हजार रुपए
हाथोज करधनी एक्सटेंशन स्कीम... 12 हजार से घटाकर 9 हजार रुपए
आकेडा डूंगर... 14 हजार से कम कर 10 हजार रुपए

यहां बढ़ाया
कॉमर्शियल स्कीम मालवीय नगर... 14 हजार से बढ़ाकर 16 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर
लक्कड़ पत्थर मंडी... 14 हजार से बढ़ाकर 16 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर

जोन 5 व 7...
यू 1 एरिया में 12 हजार व 14 हजार प्रति वर्गमीटर दर थी। अब समान रूप से 12 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर।

जोन ८...
यू 1 एरिया में 12 हजार व 14 हजार प्रति वर्गमीटर दर, जो अब समान रूप से 10 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर होगी। यानि, 4 हजार रुपए तक की कमी।

जोन ९ - दिल्ली रेलवे लाइन से जगतपुरा-गोनेर तक
यू-1 - 12 हजार व 14 हजार अलग—अलग दर। अब समान रूप से 10 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर।
यू-२ - 8 हजार व 10 अलग—अलग दर अब समान रूप से 8 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर रहेगी।
यू-३ - 10 हजार रुपए से 2 हजार रु. प्रति वर्गमीटर कम दर। यानि, यहां आरक्षित दर 8 हजार प्रति वर्गमीटर रहेगी।

जोन १० - आगरा रोड के दोनों तरफ का हिस्सा
यू-1 - 12 हजार व 14 हजार से घटाकर समान रूप से 8 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर।
यू-२ - 8 व 10 हजार से घटाकर समान रूप से 6 हजार रुपए प्रति वर्गमीटर

Ad Block is Banned