scriptCity decorated like Diwali, various events will be organized today, la | कंचन कलस बिचित्र संवारे... सबहिं धरे सजि निज निज द्वारे...बंदनवार पताका केतू... सबन्हि बनाए मंगल हेतू... | Patrika News

कंचन कलस बिचित्र संवारे... सबहिं धरे सजि निज निज द्वारे...बंदनवार पताका केतू... सबन्हि बनाए मंगल हेतू...

locationदेवासPublished: Jan 22, 2024 01:07:32 am

Submitted by:

rishi jaiswal

दीपावली जैसा सजा शहर, आज होंगे विविध आयोजन, घर-घर जलेंगे दीपक, होगी आतिशबाजी

 

कंचन कलस बिचित्र संवारे... सबहिं धरे सजि निज निज द्वारे...बंदनवार पताका केतू... सबन्हि बनाए मंगल हेतू...
कंचन कलस बिचित्र संवारे... सबहिं धरे सजि निज निज द्वारे...बंदनवार पताका केतू... सबन्हि बनाए मंगल हेतू...
देवास. कंचन कलस बिचित्र संवारे। सबहिं धरे सजि निज निज द्वारे। बंदनवार पताका केतू। सबन्हि बनाए मंगल हेतू। अर्थात सोने के कलशों को सजाकर सब लोगों ने अपने-अपने दरवाजों पर रख लिया। सब लोगों ने मंगल के लिए बंदनवार ध्वजा और पताकाएं लगाईं। श्रीरामचरित मानस में यह प्रसंग रावण वध के उपरांत भगवान श्रीराम के अयोध्या आगमन का है। कुछ ऐसा ही माहौल इस समय शहर का है।500 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद भगवान श्रीरामलला सोमवार को अपने भव्य मंदिर में विराजमान होंगे। इस अवसर को यादगार मनाने के लिए शहर से लेकर अंचल तक रामभक्तों ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। घर, मोहल्ले, बाजार सभी जगह आकर्षक साजसज्जा व विद्युत सज्जा की गई है। सोमवार को शहर सहित अंचल में विविध धार्मिक आयोजन होंगे। शाम को घरों में दीपोत्सव मनाया जाएगा। जमकर आतिशबाजी की जाएगी।
सयाजी द्वार पर हुई जमकर आतिशबाजी

उधर प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव के एक दिन पहले रविवार को शहर में कई आयोजन हुए। श्री राजपूत करणी सेना द्वारा शाम 4 बजे भगवा यात्रा निकाली गई। इसमें बड़ी संख्या में समाजजन व अन्य रामभक्त शामिल हुए। वहीं शाम को सर्व ब्राह्मण समाज द्वारा सयाजी द्वार पर दीपोत्सव मनाया गया। वहीं रात में सयाजी द्वार पर संस्था साहस द्वारा महाआरती के बाद भव्य आतिशबाजी की गई। दिनभर भी हनुमान चालीसा पाठ, सुंदरकांड पाठ, हवन-पूजन जैसे धार्मिक आयोजन होते रहे।
बच्चों से लेकर बड़ों तक उत्साह

रामलला प्राण-प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक में खासा उत्साह नजर आ रहा है। बच्चों ने घरों पर जहां आकर्षक सजावट की है वहीं बड़े भी तैयारियों में जुटे हैं। गली-मोहल्लों, बाजार, कॉलोनियों में लोगों द्वारा विशेष तैयारियां की गई है। रविवार को बालिकाओं व महिलाओं द्वारा घरों के बाहर रंगोली सजाई गई। इसके बाद सोमवार को भी रंगोली बनाई जाएगी। उधर, बाजार में बिलकुल दीपावली से माहौल नजर आ रहा है। शाम के समय बाजार में खासी भीड़ रही। उधर हर घर-जगह भगवा ध्वज व लडि़यां लगाई गई हैं। इसके चलते रविवार को बाजार में ध्वज की कमी हो गई। छोटे से ध्वज के दाम अधिक लिए गए।

ट्रेंडिंग वीडियो