जिले पाने वाला है बुनियादी साक्षरता का लक्ष्य

जिले पाने वाला है बुनियादी साक्षरता का लक्ष्य

Arjun Richhariya | Publish: Mar, 14 2018 04:56:44 PM (IST) Dewas, Madhya Pradesh, India

- जिले की 496 पंचायतों से नव साक्षर परीक्षा में शामिल होंगे 18938

देवास. अमजद शेख

इस वर्ष देवास जिला बुनियादी साक्षरता का लक्ष्य पाने वाला है। बुनियादी साक्षरता से तात्पर्य ऐसे लोग जो पढऩा लिखना नहीं जानते थे, लेकिन अब वे एक विशेष परीक्षा देकर निरक्षरता के कलंक से बाहर आ जाएंगे। इसके लिए देवास जिले को 2001 की जनगणना के आधार पर विशेष लक्ष्य दिया गया था, ये लक्ष्य इस वर्ष पूरा होने वाला है। इस वर्ष नवसाक्षर परीक्षा में जिले की 496 पंचायतों से करीब 18938 परीक्षार्थी शामिल होंगे।
राज्य शिक्षा केंद्र के अनुसार कभी भी कहीं भी के तहत साक्षर भारत योजना के महा अभियान के अंतर्गत विशेष परीक्षा 25 मार्च को मप्र के 42 जिलों में आयोजित होगी। देवास जिले की 496 पंचायतों में भी ये परीक्षा होगी। इस परीक्षा में 15 वर्ष से अधिक उम्र के निरक्षर व ड्राप आउट बच्चे परीक्षा में शामिल होंगे।
जिले को 1 लाख 42 हजार से अधिक का लक्ष्य
कोई भी निरक्षर नहीं रहे इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए देवास जिले को भी सन् 2001 की जनगणना के अनुसार 1 लाख 42 हजार 16 लोगों को साक्षर करने का लक्ष्य मिला था। अभी तक जिले में इस लक्ष्य को पाने के लिए राज्य शिक्षा केंद्र के सहयोग से 1 लाख 24 हजार लोग साक्षर हो चुके हैं। इस वर्ष आयोजित परीक्षा में शेष 18 हजार 938 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इन नवसाक्षरों की सफलता के बाद जिले का लक्ष्य पूरा हो जाएगा।
ऐसे होगी परीक्षा
नवसाक्षरों को कक्षा 3 रीं तक के विषय से संबंधित विषय सामग्री पढ़ाई जाती है। परीक्षा में पढऩा, लिखना, गणित के 50-50 अंकों का परीक्षा पत्र होगा। परीक्षा का पेपर कक्षा तीसरी तक के स्तर का होगा। जिसमें प्रत्येक भाग में 20 अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा।
एचएम पूर्ण कराएंगे परीक्षा
इस वर्ष परीक्षा पूर्ण कराने की जवाबदारी लोक शिक्षा समिति के सचिव(एचएम) के ऊपर होगी। अभी तक ये काम जिले में नियुक्त 557 पे्ररक कराते थे। लेकिन इन प्रेरकों की नियुक्ति शासन ने 31 दिसंबर 17 को एक आदेश निकालकर समाप्त कर दी। परीक्षा में सफल होने वाले बुनियादी साक्षरता का लक्ष्य पा लेंगे। इन्हें अगले पढ़ाव में समतुल्यता साक्षरता कार्यक्रम में शामिल कर लिया जाएगा, साक्षरता के ये अगला दौर इस परीक्षा के बाद जल्द ही शुरू होगा। राज्य शिक्षा केंद्र के अधिकारी मानकर चल रहे है कि इस परीक्षा के बाद जिले में बुनियादी साक्षरता का लक्ष्य पूरा हो जाएगा।
नवसाक्षर का विकासखंडवार लक्ष्य
विकासखंड पंचायत परीक्षार्थियों की संख्या
देवास 96 2652
बागली 118 4862
कन्नौद 85 3434
खातेगांव 72 3298
सोनकच्छ 66 2244
टोंकखुर्द 59 2448
वर्जन- नवसाक्षर योजना में जिला इस वर्ष अपना लक्ष्य पूरा कर लेगा। अभी तक 1 लाख 24 हजार परीक्षार्थी परीक्षा पास कर बुनियादी साक्षरता को पा चुके हैं। परीक्षा को लेकर 9 मार्च को जिला स्तर पर समस्त विकासखंड अधिकारियों व कुशल प्रशिक्षकों का उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें परीक्षा में शत प्रतिशत परीक्षार्थियों को बैठाने के निर्देश दिए गए।
विनोद सिंह सिसौदिया, एपीसी
राज्य शिक्षा केंद्र देवास।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned