scriptLife is at risk putting water from the bottom of wells | जान जोखिम में डाल कुओं के तल से खींच रहे पानी | Patrika News

जान जोखिम में डाल कुओं के तल से खींच रहे पानी

wateरोहिणी में सूर्य का रौद्र रूप चरम पर
हैंडपंप बंद होने पर जोखिम भरे कुओं से बुुझा रहे प्यास

धार

Published: June 02, 2019 12:14:26 am

गोविंद सोलंकी
मनावर. रोहिणी के चलते सूर्य का रौद्र रूप चरम पर है। गर्मी ने समूचे अंचल को झकझोर दिया है, वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की विकट स्थिति खड़ी हो गई है। अंचलों में हेडपंपों ने साथ छोड़ दिया तो ग्रामीण दूरदराज खेतों के कुओं से अपने व पशुओं के पानी की जुगाड़ में लगे हैं। ग्राम देदला में एकमात्र कुएं पर सुबह से लोगों को लगाना पड़ती है, क्योंकि समय पर नहीं पहुंचे तो कुएं में पानी खत्म हो जाता है। वैसे इस कुएं में दो नलकूपों से पानी मोटर पंप के द्वारा लाकर कुएं में संग्रह किया जाता है।
kuan par pani bharate log
jal sankat
बताते हैं कि ग्राम में कृषक परिवार तो अपने-अपने खेत के कुओं से लाइनें डालकर पानी की व्यवस्था कर ली, लेकिन ग्राम के अधिकांश लोग जिनके पास निजी संसाधन नहीं है उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ग्राम देदला की 53 लाख की पेयजल योजना जो देवला ग्राम से देदला तक बिछाई गई, लेकिन लाइन में पानी नहीं आ रहा है।
इसको लेकर कई बार ग्रामीण पीएचई विभाग से शिकायत कर चुके हैं। इस मामले में ग्राम देदला के सरपंच छोटू सिंह का कहना है कि पीएचई विभाग की पेयजल योजना प्रारंभ से ही असफल हो गई है। विभाग ने 3 इंची पाइप लाइन डाली, जिससे पानी गांव तक नहीं आ रहा है। इस संदर्भ में विभाग को कई दफाअवगत करवाया, लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया। विवश होकर पंचायत को उक्त योजना का बिजली कनेक्शन कटवाना पड़ा।
चौथे दिन सप्लाय
पेयजल संकट ग्रस्त अंचलों में सुबह शाम पानी की जुगाड़ में लोगों को भटकना पड़ रहा है। ग्राम बोरुद के नलों में चौथे पांचवें दिन पानी आ रहा है। वह भी अपर्याप्त। इसी तरह ग्राम बनेडिय़ा में पेयजल को लेकर ग्रामीण परेशान है। हैंडपंप बंद हो चुके हैं तथा दूरदराज के जलस्रोतों से पानी की जुगाड़ ग्रामीणों को करना पड़ रही है। इसी तरह ग्राम पंचायत दसवीं के मजरा भूरीबयडी में पेयजल जल की भयावह स्थिति है। महिलाओं वह बच्चों को जान जोखिम में डालकर ऐसे कुओं से पेयजल अपने व मवेशियों के लिए जुगाड़ करनी होती है जहां जरा सी चूक पर जान भी जा सकती है। कुएं से पानी बाल्टी द्वारा पानी खींच कर मवेशियों को पिलाना यहां के ग्रामीणों के लिए एक बड़ी चुनौती बनी है। अपने व पशुओं के कंठ तर करने के लिए ग्रामीणों को जूझना पड़ रहा है।
फ्लोराइड ग्रस्त जाजमखेड़ी
जाजम खेड़ी जो फ्लोराइड ग्रस्त ग्राम है। यहां हर नलकूप में फ्लोराइड है। इसका खामियाजा ग्रामीण भुगत रहे हैं। ग्राम के लोगों इसके पीने से दांत खराब हो गए तथा कम उम्र में लोगों की हड्डियों पर दुष्प्रभाव देखा जा रहा है। पीएचई विभाग ने फ्लोराइड मुक्त पानी के लिए फिल्टर प्लांट लगाया है, जिससे ग्रामीणों को 2.50 रुपए में 15 लीटर पानी उपलब्ध होता है।
कई ग्रामीण नलकूप से सप्लाई किया जाने वाला फ्लोराइड युक्त पानी पीने के उपयोग में ले रहे हैं। इस मामले में जनजागृति के अभाव में लोग फ्लोराइड के दुष्प्रभाव के शिकार हो रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न होAmarnath Yatra: सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, पहली बार मिलेगा RIFD कार्ड, गृहमंत्री ने दिए कई अहम निर्देशभीषण गर्मी के बीच फल-सब्जी हुए महंगे, अप्रैल में इतनी ज्यादा बढ़ी महंगाईCBI Raid के बाद आया केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम का बयान - 'CBI को रेड में कुछ नहीं मिला, लेकिन छापेमारी का समय जरूर दिलचस्प'कोरोना के कारण गर्भपात के केस 20% बढ़े, शिशुओं में आ रही विकृतिवाराणसी कोर्ट में का फैसला: अजय मिश्रा कोर्ट कमिश्नर पद से हटे, सर्वे रिपोर्ट पर सुनवाई 19 मई को, SC ने ज्ञानवापी पर हस्तक्षेप से किया इंकारGyanvapi: श्रीलंका जैसे हालात दे रहे दस्तक, इसलिए उठा रहे ज्ञानवापी जैसे मुद्दे-अजय माकनRajya Sabha polls: कौन है संभाजी राजे जिनको लेकर महाविकस आघाडी और बीजेपी में बढ़ा आंतरिक मतभेद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.