मायनिंग और रेत माफिया की रेस में बच्चों की जान जाते बची

गलियों में चला अवैध ट्रेक्टर पकडऩे का खेल, पोल को ठोक, चालक हो गया फरार, रहवासियों ने जताया गुस्सा, मौके से ट्रेक्टर हटाने को लेकर हुआ जमकर हंगामा

By: vishal yadav

Published: 06 Mar 2021, 11:03 AM IST

बड़वानी. जिला मुख्यालय की गलियों में शुक्रवार सुबह मायनिंग विभाग और रेत माफिया के बीच दौड़भाग का खेल चला। गनीमत रही कि इस दौरान नन्हें बच्चों की जान बच गई। वहीं बालू रेत भरा ट्रेक्टर गली के मुहाने पर स्थित विद्युत पोल से टकर गया। इससे अगला टायर फटने के बाद चालक मौके से ट्रेक्टर छोड़कर भाग गया।
वहीं इस दौड़भाग की कार्रवाई से सहमे रहवासियों ने जमकर आक्रोश व्यक्त किया। घटना के बाद करीब एक घंटे तक ट्रेक्टर को मौके से हटाने का विरोध किया। साथ ही मायनिंग विभाग के निरीक्षक व स्टॉफ को जमकर खरीखोटी सुनाई। आखिर कोतवाली का बल मौके पर पहुंचा और लोगों को समझाईश देकर ट्रेक्टर वहां बाहर निकाला। दरअसल खनिज विभाग द्वारा रेत पर रायल्टी शुल्क वसूलने के लिए अंजड़ रोड ओलंपिक सर्कल पर रेत जांच चौकी शुरु की है। जबकि शहर की कॉलोनी-मोहल्लों और गलियों में अवैध रेत का परिवहन बेखौफ जारी है। कार्रवाई से बचने के लिए रेत टे्रक्टर वाले भी तेज गति से वाहन चलाते है। इससे आए दिन हादसे होने की आशंका बनी रहती है।
तेज गति में विद्युत पोल को ठोंका, अगला टायर फट गया
शुक्रवार सुबह बिना नंबर के ट्रेक्टर की टॉली में बालू रेत भरकर चालक कहीं सप्लाय करने जा रहा था। इस दौरान खनिज विभाग के कर्मियों की उस पर नजर पड़ी। खनिज विभाग के कर्मियों ने उसको रोकते हुए रायल्टी दस्तावेज मांगे। इस पर चालक ने तेज गति से ट्रेक्टर चलाते हुए भागने का प्रयास किया। इस बीच चालक ने ट्रेक्टर को रानीपुरा हनुमान मंदिर के सामने संकरी गली में घुसा दिया। इस दौरान मोहल्ले में छोटे-छोटे बच्चे भी घरों के सामने खेल रहे थे। तेज गति होने से चालक संतुलन खो बैठा और कहार मोहल्ला की गली के मुहाने पर मौजूद विद्युत पोल से ट्रेक्टर ठोंक दिया। इससे उसका अगला पहिया फट गया।
लोगों में मचा हड़कंप
लोगों के घरों से निकलते ही चालक वहां से भाग गया। इस घटना के बाद लोगों में हड़कंप मंच गया। बड़ी संख्या में रहवासियों ने ट्रेक्टर को घेर लिया और पीछा कर रहे मायनिंग कर्मियों को खरी खोटी सुनाई। लोगों का कहना था कि दो वर्ष पूर्व भी इस तरह तेज गति ट्रेक्टर ने एक बच्चे को रौंद दिया था। रेत जांच चौकी शहर के बाहर बनाई हैं तो अवैध रेत परिवहन करने वाले ट्रेक्टर शहर में कैसे घुस रहे है। ऐसी कार्रवाई लोगों के लिए जानलेवा है। इस दौरान करीब एक घंटे तक लोग ट्रेक्टर को घेर कर खड़े रहे। आखिर कोतवाली का बल पहुंचा और लोगों को दूर कर ट्रेक्टर ट्रॉली वहां से निकाली।
चालक तेज गति से भागने लगा
सुबह गश्त के दौरान रेत परिवहन करते ट्रेक्टर को रोका और रायल्टी दस्तावेज मांगे। इस पर चालक तेज गति से भागने लगा। हम उसके पीछे थे, तभी कहार मोहल्ले में विद्युत खंबे को टक्कर मारकर चालक वहां से भाग निकला। ट्रेक्टर जब्त कर चालक के विरुद्ध प्रकरण दर्ज कर मामला जांच में लिया है।
-शांतिलाल निनामा, निरीक्षक खनिज विभाग

vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned