लूट की नीयत से हथियार लेकर घर में घुसे बदमाश, गोली लगने से एक घायल

15 दिन बाद घर में थी शादी, घरवालों ने किया संघर्ष, तीन अन्य घायल, बदमाश माल लूटने में असफल

धार/तिरला. जिस घर में 15 दिन बाद शादी थी उस घर में बदमाशों ने बुधवार रात करीब दो बजे धावा बोल दिया। घर वाले आवाज सुनकर जागे तो बदमाशों ने गोलियां दागना शुरू कर दी। एक युवक को गोली लगने से उसे इलाज के लिए इंदौर रैफर किया है। घरवालों के संघर्ष और आसपास के लोगों के जाग जाने से बदमाश माल लूटने में कामयाब नहीं हो सके। ग्राम चिकल्या में रहने वाले कैलाश पाटीदार के घर में 5 से छह बदमाशों ने मुंह पर कपड़ा बांधकर बुधवार की रात धावा बोल दिया। 30 जनवरी को पाटीदार के बेटे रोहित की शादी होने वाली थी।

-रोहित को बंधक बनाकर पीटा, आभूषण और नकदी के बारे में पूछा

बदमाश खिडक़ी के सहारे पहले कैलाश के पुत्र रोहित के कमरे में दाखिल हुए और उसे बंधक बनाकर आभूषण एवं नकदी के बारे में जानकारी लेने के लिए रोहित को करीब आधे घंटे तक पीटते रहे। इतने में कैलाश का बड़ा पुत्र धर्मेंद्र एव कैलाश के बड़े भाई मोहन एवं कैलाश जाग गए। इसके बाद बदमाशों से इनका आधे घंटे तक संघर्ष चला। इस दौरान बदमाशों ने परिवार पर धारदार हथियार से हमला किया व गोलियां दागी। घटना में धर्मेंद्र पाटीदार, कैलाश पाटीदार, रितेश और मोहन घायल हो गए। वहीं धर्मेंद्र पाटीदार को कंधे में गोली मार दी, जिसे धार के निजी अस्पताल लाया गया। जहां से उसे इंदौर रैफर कर दिया गया। बताया जा रहा है कि कैलाश पाटीदार के यहां कुछ दिनों बाद शादी का आयोजन है। इसके चलते जेवरात आदि लूट की नीयत से बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया, लेकिन इसमें कामयाब नहीं हो सके।
आधे घंटे बदमाशों ने मचाया उत्पात

मिली जानकारी के अनुसार अज्ञात बदमाश रात को करीब डेढ़ से दो बजे पाटीदार के घर में पड़ोस के मकान से घुसे थे। पाटीदार के घर में घुसने के बाद बदमाशों ने आधे घंटे तक उत्पात मचाया। इस दौरान हल्ला होने पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस द्वारा आसपास के क्षेत्र में भी सर्चिंग की गई, लेकिन हाथ कुछ नहीं लगा। इसके बाद एफएसएल की टीम भी घटना स्थल पर पहुंची और पड़ताल की। इधर परिजनों ने बताया कि 6 से 7 बदमाश थे और सभी के पास हथियार थे और चिल्लाने से मना कर रहे थे।
-आसपास के लोगों को आता देख बदमाश भागे

परिजन ने बताया कि धर्मेंद्र ने पिता के साथ मारपीट होता देख वह भी बदमाशों से भिड़ गया। धर्मेंद्र ने एक बदमाश को पकड़ लिया। इस दौरान एक अन्य बदमाश ने धर्मेंद्र के ऊपर गोली चला दी और गोली धर्मेंद्र के कंधे पर लग गई। आसपास के लोग भी जाग गए और घटना स्थल पर पहुंचे। काफी संख्या में लोगों को आता देखकर बदमाश वहां से भाग निकले। घटना में कैलाश पिता नाथाजी पाटीदार, मोहन पिता कैलाश और रोहित पिता कैलाश को भी चोट आई।

shyam awasthi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned