Chhath Pooja - छठ पूजा 11 से 14 नवंबर 2018, पूजा शुभ मुहूर्त

Chhath Pooja - छठ पूजा 11 से 14 नवंबर 2018, पूजा शुभ मुहूर्त

Shyam Kishor | Publish: Nov, 10 2018 11:52:53 AM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 11:52:54 AM (IST) धर्म कर्म

छठ पूजा 11 से 14 नवंबर 2018, पूजा शुभ मुहूर्त

 

11 नवंबर 2018 दिन रविवार से चार दिवसीय छठ पर्व का बड़ा त्यौहार आरंभ हो जायेगा । इस पर्व में 4 दिनों तक भगवान सूर्य की उपासना की जाती है । प्रात:काल में सूर्य की पहली किरण और सायंकाल में सूर्य की अंतिम किरण को अर्घ्य देकर नमन किया जाता है । रविवार से शुरू हो रही छठ माता की पूजा 14 नवंबर 2018 दिन बुधवार तक चलेगी । सुख-समृद्धि व मनोकामनाओं की पूर्ति की कामना के साथ संतान प्राप्ति व संतान के दीर्घायु जीवन की विशेष प्रार्थना की जाती हैं । जाने छठ पूजा का शुभ मुहूर्त व तिथि ।


छठ पूजा का आरंभ कार्तिक मास के शुक्ल की चतुर्थी तिथि से होता है, एवं शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को इसका समापन्न होता है । इस त्यौहार को देश ही नहीं प्रवासी भारतीय भी हर्षोल्लास के साथ समान रूप से मनाते हैं । छठ पूजा गंगा-यमुना या किसी भी पवित्र नदी या पोखर के किनारे पानी में खड़े होकर यह पूजा संपन्न कि जाती है, और सूर्य देव को अर्घ्य दिया जाता हैं ।


छठ पूजा
छठ पूजा चार दिनों तक चलने वाला अत्यंत कठिन और महत्वपूर्ण महापर्व होता है, यह पर्व कार्तिक मास की शुक्ल चतुर्थी से आरंभ होकर कार्तिक मास की ही शुक्ल सप्तमी सूर्य को अर्घ्य देने के बाद उपवास छोड़ने के बाद समाप्त को हो जाता है । छठ का व्रत करने वाले श्रद्धालु पानी भी ग्रहण नहीं करते निराहार और निर्जला उपवास रखते हैं । बिहार और उत्तर प्रदेश के पूर्वी इलाकों में छठ पर्व पूर्ण श्रद्धा के साथ मनाया जाता है । छठ पर्व में लोग फल, गन्ना, डाली और सूप आदि का प्रयोग करते हैं ।

 

छठ पूजा का शुभ मुहूर्त व तिथि


1- छठ पूजा का पहला दिन- 11 नवंबर 2018 दिन रविवार- चतुर्थी तिथि
- नहाय खाये दिवस- सुबह 6 बजकर 44 मिनट पर सूर्योदय एवं शाम को 6 बजकर 1 मिनट पर सूर्यास्त ।


2- छठ पूजा का दूसरा दिन- 12 नवंबर 2018 दिन सोमवार- पंचमी तिथि
- लोहंडा और खारना के रूप में बनाया जाता है । इस दिन सूर्योउदय से सूर्यास्त तक निर्जला उपवास रखा जाता है । सूर्य भगवान को भोजन देने के बाद सूर्यास्त के बाद उपवास खोला जाता हैं ।
- सुबह 6 बजकर 44 मिनट पर सूर्योदय एवं शाम को 6 बजकर 1 मिनट पर सूर्यास्त ।


3- छठ पूजा का तीसरा दिन- 13 नवंबर 2018 दिन मंगलवार- षष्ठी तिथि ।
- छठ पूजा के तीसरे मुख्य दिन के रूप में बिना पानी के उपवास रखा जाता है । सूर्य की स्थापना सूर्य को दिन का मुख्य अनुष्ठान प्रदान करते है और तीसरे दिन का उपवास पूरी रात जारी रहता है । सूर्योदय के बाद अगले दिन पूजा की जाती है ।
- सुबह 6 बजकर 44 मिनट पर सूर्योदय एवं शाम को 6 बजकर 1 मिनट पर सूर्यास्त ।


4- छठ पूजा का चौथा दिन- 14 नवंबर 2018 सप्तमी तिथि
- छठ के चौथे और अंतिम दिन, उगते हुये सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है, जिसे उषा अर्घ्य के नाम से जाना जाता है । सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही 36 घंटे से चल रहे लंबे उपवास को तोड़ा जाता हैं ।
- उषा अर्घ्य पराना दिवस- सुबह 6 बजकर 45 मिनट पर सूर्योदय एवं शाम को 6 बजे पर सूर्यास्त ।

Ad Block is Banned