Holi ki raat ke upay: घर बैठे ऐसे करें पूजा, होगी हर मनोकामना पूरी

शास्त्रों में मुहूर्त के अनुसार कार्य करने का महत्व...

By: दीपेश तिवारी

Published: 27 Mar 2021, 09:57 AM IST

फाल्गुन मास की पूर्णिमा की रात में हिन्दू पंचांग के अनुसार होलिका दहन किया जाता है। वहीं इसके अगले दिन रंगों के साथ होली खेली जाती है। ऐसे में इस बार यानि 2021 में होली 29 मार्च को खेली जाएगी और इससे एक दिन पहले यानि पूर्णिमा की रात को होलिका दहन होगा।

ऐसे में आज हम आपको वे उपाय बताने जा रहे हैं वो पूर्णिमा की यानि होलिका दहन की रात को करना शुभ माना जाता है, वहीं कोरोना काल के चलते कई जगहों पर लगे लॉकडाउन को देखते हुए यह उपाय आप घर में भी कर सकते हैं।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार शास्त्रों में मुहूर्त के अनुसार कार्य करने का महत्व है, इसलिए हर पर्व और त्यौहार से पहले लोग शुभ मुहूर्त जानने के लिए इच्छुक होते हैं, लेकिन मुहूर्त के साथ शास्त्रों में त्यौहार के दौरान कुछ धार्मिक कर्म-कांड करने का उल्लेख किया गया है।

त्यौहार का समय यूं तो हर कार्य के लिए शुभ माना जाता है, लेकिन होली के दौरान होलाष्टक होने के कारण कई शुभ कार्यों को वर्जित माना गया है। ऐसे में माना जाता है कि यदि इस समय धार्मिक कार्य किए जाएं, तो उसका अधिक फल मिलता है। होली की रात तो वैसे भी पूजा और ज्योतिष के उपाय करने के लिए बहुत शुभ मानी जाती है।

ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं, जिनके संबंध में मान्यता है कि इन्हें करने से आपको आने वाले पूरे वर्ष में सुख और समृद्धि की प्राप्ति होगी। साथ ही यह उपाय घर में ही रहकर किए जा सकते हैं।

होली के दौरान कुछ मंत्रों का जप करने से आप महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त कर सकते हैं। होली की रात देवी महालक्ष्मी सहित इष्ट देवी-देवताओं की विधिवत पूजा करनी चाहिए। मंत्र जप 108 बार या 1008 बार किया जा सकता है। मंत्र जप के लिए कमल के गट्टे की माला का उपयोग करना चाहिए। इस मंत्र का जप करें -

मंत्र: ऊँ श्रीं महालक्ष्म्यै नम:।

इस मंत्र के जप और पूजन विधान से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। सबसे पहली बात पूजा आरंभ करने से पहले शास्त्रानुसार नहाकर साफ वस्त्र पहनकर तैयार हो जाएं।

पूजा करने के लिए इस तरह की सामग्री का प्रयोग करें - महालक्ष्मी को कमल के फूल, चंदन, केसर, पीला वस्त्र, इत्र व मिठाई अर्पित करें। इसके बाद कुश के आसन पर बैठकर कमल गट्टे की माला से मंत्र का जप करें। होली के बाद हर शुक्रवार महालक्ष्मी का विशेष पूजन और इस मंत्र का जप करते रहना चाहिए।

महालक्ष्मी के इन उपायों को होली की रात करने से आने वाला समय सुख एवं स्मृद्धि से युक्त होगा। किंतु जीवन से जुड़े अन्य पहलुओं संबंधी उपाय भी होली की रात किए जा सकते हैं, उदाहरण के लिए विवाह बाधा दूर करने का उपाय।

विवाह बाधा दूर करने के लिए :-
होली की रात एक आसान पूजा से विवाह में आ रही बाधा को दूर किया जा सकता है। यदि कोई व्यक्ति विवाह योग्य है और कुंडली के दोषों के कारण कई प्रयासों के बाद भी विवाह नहीं हो पा रहा है तो होली की रात ये उपाय कर सकते हैं। इस उपाय से कुंडली के दोष शांत हो सकते हैं।

शिवलिंग पूजा...
होली पर पान का 1 साबूत पत्ता, 1 साबूत सुपारी एवं हल्दी की गांठ लेकर शिव मंदिर जाएं। पान के पत्ते पर सुपारी और हल्दी की गांठ रखकर शिवलिंग पर अर्पित करें। इसके बाद अपने घर लौट आएं। घर लौटते समय पीछे पलटकर न देखें। यही प्रयोग अगले दिन फिर करें।

वहीं यदि आप मंदिर नहीं जा पा रहे हैं तो इस दिन यह सारी प्रक्रिया का घर में ही हाथ में जल लेकर भगवान के सामने आने वाली मासिक शिवरात्रि के दिन का संकल्प लेकर, आने वाली शिवरात्रि पर ये पूरी प्रक्रिया करें।

ग्रह शांति के लिए...
इससे विवाह योग को काट रहे ग्रह धीरे-धीरे शांत हो जाते हैं। लेकिन यदि तब भी परिणाम हासिल ना हो, तो इस पूजा को समय-समय पर शुभ मुहूर्त का ध्यान रखते हुए कभी भी कर सकते हैं। मान्यता है कि इस उपाय से शिवजी की कृपा प्राप्त होती है और विवाह की बाधा और कुंडली के दोष शांत हो सकते हैं।

यदि किन्हीं कारणों से आप यह पूजा नहीं कर सकते, तो एक और छोटा सा उपाय है जो विवाह में आ रही रुकावट को दूर कर सकता है। इसके लिए ना किसी शुभ मुहूर्त की आवश्यकता है और ना ही पूजन के लंबे विधि-विधान की।

इसके लिए जातक को केवल होली की रात को किसी शिव मंदिर में शिवलिंग के पास दीपक जलाना है। ऐसी मान्यता है कि रात के समय शिवलिंग के पास दीपक जलाने से महादेव की विशेष कृपा प्राप्त होती है। ऐसा भी कहा जाता है कि जो भी व्यक्ति यह उपाय करता है उसके जीवन की कई परेशानियां समाप्त हो सकती हैं।

होली और हनुमान जी...
अब होली की रात का ये आखिरी उपाय हनुमान जी की शरण में आ कर करें। इस एक उपाय से सभी कामों में सफलता और पारिवारिक सुख की प्राप्ति होती है। जो भी भक्त सच्चे मन से हनुमान जी से सफलता एवं पारिवारिक सुख की कामना करते हुए यह उपाय करता है, उसे हनुमान जी वरदान जरूर देते हैं।

घर पर भी कर सकते हैं ये उपाय
होली की रात हनुमानजी से जुड़ा यह उपाय कुछ इस प्रकार है - इसके लिए होली की रात में स्नान आदि करके पवित्र हो जाएं। यदि आप चाहें तो किसी हनुमान मंदिर जाएं या अपने घर पर ही हनुमानजी की प्रतिमा या चित्र के सामने बैठकर पूजा करें।

पूजन में हनुमानजी को सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करें। चोला चढ़ाएं। विधि-विधान से पूजन करें। हार-फूल, प्रसाद आदि चढ़ाएं। आरती करें। यदि प्रसाद के रूप में गुड़-चने चढ़ाएंगे तो यह श्रेष्ठ रहेगा। पूजन के बाद प्रसाद अन्य लोगों को बांत देना चाहिए।

यदि फिर भी बताया गया यह उपाय किसी कारणवश आप ना भी कर पाएं, तो एक और उपाय है जो संतुष्ट फल की प्राप्ति कराता है। आप होली की रात हनुमान चालीसा का जप कर सकते हैं, इससे जरूर सफलता मिलेगी।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned