scriptAction on Mafia: Illegal gravel extraction routes cut | माफिया पर एक्शन: अवैध बजरी निकासी के रास्तों को काटा | Patrika News

माफिया पर एक्शन: अवैध बजरी निकासी के रास्तों को काटा

locationधौलपुरPublished: Jan 27, 2024 01:00:56 pm

Submitted by:

rohit sharma

प्रदेश में अवैध खनन के खिलाफ संयुक्त रूप से चलाए जा रहे अभियान के तहत बसई डांग के डांग क्षेत्र और चंबल किनारे इलाके में पुलिस ने दबिश दी। यहां अवैध चंबल बजरी परिवहन के रास्तों को जेसीबी मशीन से काट कर बंद कराया गया।

माफिया पर एक्शन: अवैध बजरी निकासी के रास्तों को काटा
माफिया पर एक्शन: अवैध बजरी निकासी के रास्तों को काटा
धौलपुर. प्रदेश में अवैध खनन के खिलाफ संयुक्त रूप से चलाए जा रहे अभियान के तहत बसई डांग के डांग क्षेत्र और चंबल किनारे इलाके में पुलिस ने दबिश दी। यहां अवैध चंबल बजरी परिवहन के रास्तों को जेसीबी मशीन से काट कर बंद कराया गया। बता दें कि इन इलाकों से बजरी माफिया के लोग अवैध रूप से चंबल बजरी की निकासी करते हैं। डीएफओ अनिल कुमार के निर्देशन में अवैध बजरी खनन और निर्गमन के विरुद्ध अभियान के दौरान गुरुवार को रेंजर वन्यजीव घडिय़ाल ओकेश यादव और थाना प्रभारी बसई डांग संपत सिंह की संयुक्त टीम ने चंदेलीपुरा, बसई डांग समेत चंबल के घाटों में दबिश दी। यहां कार्रवाई कर अवैध बजरी निकासी के रास्तों को जेसीबी मशीन से काटा गया। कार्रवाई में फॉरेस्टर राजेश मीणा, एचएम बसई डांग राकेश यादव और बाड़ी सदर का जाब्ता रहा। गठित एसआईटी टीम ने बीते एक सप्ताह में कुछ स्थानों पर संयुक्त रूप से अवैध खनन व परिवहन के खिलाफ कार्रवाई की है। हालांकि, इसके बाद भी खनन माफिया पर नकेस कसने मेें नाकाम रहे हैं।

बाल श्रमिक को कराया मुक्त, दुकान मालिक भाग निकला


धौलपुर. चाइल्ड हेल्पलाइन यूनिट 1098 और मानव तस्करी विरोधी इकाई ने शहर में सराय गजरा रोड स्थिति जनरल स्टोर की दुकान पर कार्य कर रहे करीब 14 वर्षीय बालक को बाल श्रम से मुक्त कराया। चाइल्ड हेल्पलाइन यूनिट प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर सरनाम कुशवाह ने बताया कि पीडि़त बालक के अनुसार आरोपी अंकित पुत्र अशोक बंसल निवासी सराय मजरा रोड बालक से 12-12 घंटे काम कराता था। जिसके कारण बालक शिक्षा से भी वंचित था। बालक को पूरी मजदूरी भी नहीं देने का आरोप है। कार्रवाई के समय आरोपित भाग गया। जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। इस संबंध में थाना निहालगंज में मुकदमा दर्ज किया है। उधर, बालक का स्वास्थ्य परीक्षण और काउंसलिंग भी कराई गई। बालक को रेस्क्यू कर पुलिस ने बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया। समिति ने बच्चे का विद्यालय में प्रवेश सुनिश्चित करते हुए बच्चे के पुनर्वास की कार्रवाई की जा रही है।

ट्रेंडिंग वीडियो