केन्द्रीय मंत्री सिंधिया के आगमन पर जिले में खुलकर नजर आई भाजपा की गुटबाजी

धौलपुर. कहते हैं दल भले ही मिल जाएं, दिल मिलना बड़ा मुश्किल है। ऐसा ही कुछ यहां केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के थोड़ी देर के धौलपुर प्रवास में देखने को मिला। दरअसल, बुधवार को सिंधिया दिल्ली से ग्वालियर जाते वक्त कुछ देर धौलपुर में रुके।

By: Naresh

Published: 23 Sep 2021, 06:05 AM IST

केन्द्रीय मंत्री सिंधिया के आगमन पर जिले में खुलकर सामने आई भाजपा की गुटबाजी

- केन्द्रीय मंत्री दिल्ली से ग्वालियर जाते वक्त रुके धौलपुर
- जिले में खुलकर सामने आई भाजपा की गुटबाजी
- जिला कलक्टर, एसपी व आम लोगों ने किया स्वागत
- राजनीतिक हलकों में होती रही चर्चा- जब बुआ से रिश्ता नहीं तो भतीजे से कैसा नाता

धौलपुर. कहते हैं दल भले ही मिल जाएं, दिल मिलना बड़ा मुश्किल है। ऐसा ही कुछ यहां केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के थोड़ी देर के धौलपुर प्रवास में देखने को मिला। दरअसल, बुधवार को सिंधिया दिल्ली से ग्वालियर जाते वक्त कुछ देर धौलपुर में रुके। यहां सर्किट हाउस तथा वाटरवक्र्स चौराहे पर उनका स्वागत भी किया गया, लेकिन इस पूरे दृश्य से जिला भाजपा नदारद नजर आई। केन्द्रीय मंत्री का आना और भाजपा पदाधिकारियों का न आना जिले भर में चर्चा का विषय रहा। प्रदेश स्तर पर भाजपा में मची गुटबाजी से धौलपुर भी अछूता नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के गृह जिले में तो गुटबाजी की स्पष्ट रेखा नजर आती है। यहां वर्तमान जिला कार्यकारिणी को प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया का समर्थक माना जाता है।

बुआ के साथ भतीजे से भी परहेज

प्रदेश भाजपा की गुटबाजी का असर धौलपुर में भी गाहे-बगाहे दिखता ही रहता है। पूर्व सीएम राजे के धौलपुर दौरे पर भी भाजपा स्पष्ट रूप से बंटी नजर आती है। तब भी जिला कार्यकारिणी से कोई पदाधिकारी मुश्किल ही राजे के कार्यक्रम में दिखता है। केन्द्रीय मंत्री सिंधिया रिश्ते में राजे के भतीजे हैं। ऐसे में लोगों में बुधवार को चर्चा रही कि जब बुआ से ही रिश्ता नहीं तो भतीजे से कैसा नाता।

सभापति चुनाव में दिखी थी फूट

नगर परिषद सभापति के चुनाव में भी भाजपा की फूट सामने आई थी। जब कांग्रेस से ज्यादा संख्याबल होने के बावजूद कांग्रेस ने भाजपा की बागी पार्षद को समर्थन देकर अपना सभापति बना लिया था। उस दौरान भी वसुंधरा समर्थकों के टिकट काटे गए थे। बाद में जीते हुए वसुंधरा समर्थकों, निर्दलियों व भाजपा पार्षदों की क्रॉस वोटिंग से कांग्रेस समर्थित सभापति धौलपुर में बना था।

प्रो. बघेल के आने पर उमड़ी थी पार्टी

17 अगस्त को केन्द्रीय मंत्री प्रो.एसपी सिंह बघेल जन आाशीर्वाद यात्रा पर धौलपुर आए थे। उनके पूरे दौरे पर भाजपा पदाधिकारियों ने जिस उत्साह से उनका स्वागत किया वह देखने लायक था। लोगों में भी भाजपा द्वारा प्रो. बघेल के स्वागत को लेकर चर्चा रही थी। अब बुधवार को एक अन्य केन्द्रीय मंत्री के धौलपुर आने पर पार्टी पदाधिकारियों का टोटा लोगों को अखरता रहा।

इनका कहना है...

नहीं थी सूचना

केन्द्रीय मंत्री सिंधिया के आने को लेकर पार्टी के पास कोई सूचना नहीं थी। पार्टी कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूर्व निश्चित रक्तदान के कार्यक्रम में व्यस्त थे।
- श्रवण वर्मा, जिलाध्यक्ष, भाजपा, धौलपुर

BJP
Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned