script वीआइपी की आहट से भरे गड्ढे, शहर में कोई सुध तक नहीं | Pits filled with sound of VIP, no one even notices in the city | Patrika News

वीआइपी की आहट से भरे गड्ढे, शहर में कोई सुध तक नहीं

locationधौलपुरPublished: Jan 15, 2024 12:47:19 pm

Submitted by:

rohit sharma

वीआइपी के आने की सूचना से ही सरकारी अमला धावक की तरह कार्य करना शुरू कर देता है। बता दें कि १६ जनवरी को उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ एक दिवसीय दौरे पर धौलपुर के राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल में पहुंच रहे हैं।

वीआइपी की आहट से भरे गड्ढे, शहर में कोई सुध तक नहीं
वीआइपी की आहट से भरे गड्ढे, शहर में कोई सुध तक नहीं
धौलपुर. वीआइपी के आने की सूचना से ही सरकारी अमला धावक की तरह कार्य करना शुरू कर देता है। बता दें कि १६ जनवरी को उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ एक दिवसीय दौरे पर धौलपुर के राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल में पहुंच रहे हैं। फिलहाल उप राष्ट्रपति का एक ही कार्यक्रम है। लेकिन उनके दौरे को लेकर स्थानीय प्रशासन सतर्क हो गया है। सबसे पहलेअधिकारी व कर्मचारियों के अवकाश और मुख्यालय छोडऩे पर प्रतिबंध लगा दिया है। उधर, दौरे के चलते सैंपऊ रोड के गड्ढों को रविवार को भर दिया गया जबकि नगर परिषद क्षेत्र में हो रहे गड्ढों की अभी तक कोई सुध लेने वाला नहीं है। शहरवासियों का कहना है कि वीआइपी दौरे में शहर का भी भ्रमण कराना चाहिए जिससे आमजन को दर्द दे रहे गड्ढें शायद भर जाएं।
मिलिट्री स्कूल में एक घंटे का रहेगा कार्यक्रम

बता दें कि राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल में मात्र एक घंटे का कार्यक्रम रहेगा। उक्त कार्यक्रम दोपहर २.३० से ३.३० बजे तक रहेगा। कार्यक्रम स्कूल के विवेकानंद ऑडिटोरियम में होगा। जिसमें उप राष्ट्रपति कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। बताया जा रहा है कि पिछली दफा मौसम खराब होने की वजह से उप राष्ट्रपति का दौरा निरस्त हो गया था। इस दफा उन्होंने जयपुर से दिल्ली जाते समय राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल जाने की इच्छा जताई। जिस पर केवल एक घंटे का कार्यक्रम रखा गया है। उप राष्ट्रपति का काफिला पहले ८ मील हवाई पट्टी पर उतरेगा और वहां से सडक़ मार्ग से मिलिट्री स्कूल पहुंचेंगे।

गड्ढे ऐसे की स्कूटी व बाइक हो रही स्लिप

शहर में ऐसी कोई सडक़ नहीं बची है जिस पर गड्ढे न हो। ज्यादातर सडक़ें गड्ढों से सजी हुई हैं। इस वजह से वाहन से शहर में निकलना दूभर हो रहा है। दुपहिया वाहन चालक अधिक परेशान हैं। कई दफा वाहन स्लिप होकर हादसे में तब्दील हो रहे हैं। शहर में जगह तिराहे से अस्पताल, स्टेशन रोड, पैलेस रोड, जेल रोड, पुराना शहर, गडरपुरा, संतर रोड, गौरव पथ समेत ज्यादातर सडक़ों पर गड्ढे आम लोगों को तकलीफ दे रहे हैं। अब तो लोग निकलने के लिए बेहतर सडक़ तक का चुनाव करने लगे हैं।
सैंपऊ रोड पर हुआ पेचवर्क, डाली गिट्टियां

उप राष्ट्रपति के दौरे के चलते शहर का प्रमुख मार्ग सैंपऊ रोड जो आगे हाइवे संख्या १२३ को जोड़ता है। इस पर रविवार को गड्ढों में गिट्टियां डालकर दुरस्त करना शुरू कर दिया। हालांकि, उप राट्रपति का शहर की तरफ कोई कार्यक्रम नहीं है। लेकिन ऐतियातन के तौर पर सडक़ को सही कराया जा रहा है। इस वजह से सर्किट हाउस में भी कार्य हो रहा है। पीडब्ल्यूडी सूत्रों ने बताया कि प्रशासनिक निर्देश के बाद पेचवर्क किया जा रहा है। जिससे अंतिम समय में कोई परेशानी न हो। जैसा पिछली दफा खराब मौसम की वजह से पीडब्ल्यूडी प्रशासन के पसीने छूट गए थे।

अधिकारी व कर्मचारियों की छुट्टी पर रोक

उधर, एडीएम की ओर से एक आदेश के तहत अधिकारी व कर्मचारियों की छुट्टी व मुख्यालय छोडऩे पर रोक लगा दी है। इसको लेकर एडीएम सुदर्शन सिंह तोमर की ओर से १३ जनवरी को आदेश जारी कर दिए गए हैं। इसमें कहा कि अधिकारी व कर्मचारी बिना जिला कलक्टर की अनुमति के मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे।

ट्रेंडिंग वीडियो