कबीरपंथी लोगों ने ज्ञापन सौंपकर अतिक्रमण हटाने की मांग

कबीरपंथी लोगों ने ज्ञापन सौंपकर अतिक्रमण हटाने की मांग
Yoga meditation center being developed with herb garden

Rajkumar Yadav | Publish: Jun, 21 2019 10:58:53 AM (IST) Dindori, Dindori, Madhya Pradesh, India

प्रशासन को दिया ज्ञापन

डिंडोरी। नगर में वृहद् स्तर पर अतिक्रमण विरोधी मुहिम चला कर अवैध अतिक्रमणों को सख्ती से हटाया गया था लेकिन अनदेखी के कारण एक बार फिर यहां अतिक्रमण पसरने लगा है। अतिक्रमणकारियों ने धार्मिक स्थलों के आसपास भी डेरा जमा लिया है और यहां पर मांस मदिरा का व्यवसाय किया जा रहा है। कबीर आश्रम के पास फैले अतिक्रमण के विरोध में कबीर पंथी समुदाय ने आक्रोश व्यक्त करते हुये यहां से अतिक्रमण हटाये जाने की मांग प्रशासन से की है। जिसे लेकर ज्ञापन सौंपा ह।ै जिसमें उल्लेख किया गया है कि नर्मदा पुल पास सार्वजनिक कबीर आश्रम कबीर पंथी समाज की आस्था का प्रतीक है। जहां आये दिन कबीरपंथ समाज के लोग अपने आस्था का प्रतीक आश्रम की पूजा पाठ एवं दर्शन हेतु नित्य दिन आते है। समाज के सभी माताये बहने एवं सर्व समाज के लोग नित्य प्रतिदिन आते है।
आश्रम के ठीक सामने जबरदस्ती अपने महिला को सामने कर कब्जा कर एक होटल बना लिया गया है। जहां पर आए दिन रात्रि में लोगों को शराब पिलाता है और शराब पीकर लोग शाम को गाली गलौज और उत्पात करते है। जिससे आश्रम में माताओं बहनों एवं श्रद्धालुओं को आने में परेशानी होती है। साथ ही मां नर्मदा दर्शन हेतु भी श्रद्धालुओं को परेशानी होती है। अभी 8-10 दिन पहले प्रशासन के द्वारा आश्रम के सामने के अतिक्रमण को हटवा दिया गया था। किन्तु फिर से आश्रम के सामने अतिक्रमण कर लिया गया है। समाज के लोगों के मना करने करने पर होटल संचालक की पत्नी द्वारा आपत्तिजनक बर्ताव करते हुये धमकी दी जा रही है। ज्ञापन सौंपने वालों में अध्यक्ष सुरेश दास बघेल, धनेश धनंजय, रवि बघेल, रविन्द्र सुरेश्वर, लोमेश पडवार, गुरूप्रताप सोनवानी, राकेश दास टांडिया, गंभीर दास, पुरूषोत्तम दास आन्धवान, प्रकाश दास मानिकपुरी, मनमोहन बघेल, जापान दास पारस, अनिल पनरिया, मुकेश बैरागी, संतोष मोंगरे, सुरेश दास बघेल आदि शामिल रहे। ज्ञापन के बाद नगर परिषद के अमले द्वारा उक्त स्थल से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned