दर्ज पांच मवेशी लेकिन कांजी हाउस में आधा सैकड़ा मवेशी बंद

दर्ज पांच मवेशी लेकिन कांजी हाउस में आधा सैकड़ा मवेशी बंद

shivmangal singh | Publish: Jul, 13 2018 05:29:27 PM (IST) Dindori, Madhya Pradesh, India

अव्यवस्थाओं के बीच घिरा कांजी हाउस

डिंडोरी. नगर के इकलौते कांजी हाउस में इन दिनों लगभग 60 मवेशी बंद है, लेकिन कांजी हाउस के जिम्मेदार इन मवेशियों की ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिसके चलते मवेशियों को दिन भर भूखा और प्यासा रहना पड़ रहा है। जिस कारण कांजी हाउस में बंद मवेशियों की हालत बिगड़ रही है।
कांजी हाउस की देखरेख की जिम्मेदारी राममिलन नगर परिषद अस्थायी कर्मी के हाथों में है। कांजी हाउस की देखरेख का जिम्मा नगर परिषद ने राम मिलन को सौंपा हुआ है, लेकिन नगर परिषद कर्मी के द्वारा कांजी हाउस में बंद मवेशियों को समय पर चारा और भूसा नहीं दिया जाता। साथ ही कांजी हाउस में बनी मवेशियों के पीने के पानी की टंकी भी अनेकों स्थानों से टूटी हुई है व दूसरी पानी की टंकी में पानी का ठहराव नहीं होता। इससे स्पष्ट होता है कि कांजी हाउस में बंद मवेशियों के प्रतिन गर परिषद अमला कितना सजग है।
नगर परिषद दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी राममिलन ने बताया कि कांजी हाउस में बंद मवेशियों को सूखा भूसा दिया जाता है व पानी की व्यवस्था टंकी फूटे होने के कारण पानी की आपूर्ति टेंकर से की जाती है। वहीं राम मिलन द्वारा कांजी हाउस में बंद किये गये मवेशियों के बारे में रिकॉर्ड रजिस्टर दिखाने की बात कही गई, तो आनाकानी के बाद रजिस्टर दिखाया गया। जिसमें कांजी हाउस में बंद मवेशियों की दर्ज संख्या पांच थी, जबकि कांजी हाउस के अंदर आधा सैकड़ा से अधिक मूक मवेशी बंद थे। नगर के इकलौते कांजी हाउस में हर दिन अनेकों मवेशियों को बंद किया जाता है। जिनके खाने की व्यवस्था के लिये पर्याप्त मात्रा में पशु आहार न देकर केवल सूखा भूसा ही दिया जाता है।
जबकि कांजी हाउस में बंद मवेशियों के मालिकों से पशु आहार पशुओं की देखरेख के लिये पशु मालिकों से सैकड़ों रुपये ऐंठे जाते हैं। रिकॉर्डों में संख्या काफी कम दर्ज की जा रही है। कांजी हाउस में बद जानवरों का आकड़ा काफी अधिक है। पशु मालिक जब मवेशियों को छुड़ाने कांजी हाउस जाते हैं, तो उनको बिना पर्ची दिए ही पशु मालिकों को सुपुर्द कर देते हैं। जिससे स्पष्ट होता है कि नगर परिषद में अधिकारिक सांठगांठ करके चूना लगाया जा रहा है। वहीं दैनिक वेतन भोगी राम मिलन द्वारा नगर परिषद की हड़ताल में सम्मिलित रहते हुए कैसे यहां पर सेवा दे रहे हैं। कांजी हाउस में पत्नी पैसे वसूल मवेशियों को छोडऱही है। जिसका कोई रिकार्ड नहीं है इस संबंध में उसने बताया कि रात में रिकार्ड दुरुस्त किया जाएगा।

Ad Block is Banned