योजना का मिला लाभ, 2.22 करोड़ के बिजली बिल माफ

shivmangal singh

Publish: Jul, 13 2018 05:36:26 PM (IST)

Dindori, Madhya Pradesh, India
योजना का मिला लाभ, 2.22 करोड़ के बिजली बिल माफ

मनाया गया ऊर्जा अधोसंरचना विकास पर्व

डिंडोरी. प्रदेश शासन के मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सरल बिजली बिल एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम 2018 प्रारम्भ की गई है। यह योजना श्रमिक परिवारों के लिये वरदान साबित हो रही है। इसी उपलक्ष में आज उर्जा अधोसंरचना विकास पर्व को पूरे प्रदेश में हर्सोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिक परिवारों और बीपीएल परिवार के उपभोक्ताओं को बिजली बिल की चिंता से मुक्त कर दिया है। प्रदेश शासन के मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे उत्कृष्ट विद्यालय मैदान डिंडोरी में आयोजित उर्जा अधोसंरचना विकास पर्व के कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योतिप्रकाश धुर्वे, जनपद पंचायत डिंडोरी अध्यक्ष देववती बालरे, उपाध्यक्ष सुशील राय, कलेक्टर मोहित बुंदस, पुलिस अधीक्षक कार्तिकेयन के, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दिलीप यादव, सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी, जनप्रतिनिधि और ग्रामीणजन उपस्थित थे। मंत्री श्री धुर्वे ने आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज जिले का ऐतिहासिक दिन है। अब जिले में बिजली की समस्या नहीं है। गांव-गांव और घर-घर तक बिजली पहुंचा दी गई है। मंत्री श्री धुर्वे ने कहा कि डिंडोरी जिले के ग्राम-कोहका में 132 के.व्ही. पॉवर स्टेशन स्थापित किया गया है। यह पॉवर स्टेशन जिले के लिए बहुत बडी उपलब्धि है। मंत्री श्री धुर्वे ने कहा कि ग्राम-कोहका में स्थापित पॉवर स्टेशन से कई गांवों में बिजली की समस्या नहीं है। इसी प्रकार से आज डिंडोरी जिले के ग्राम-कूंडा और रूसा में भी 33/11 के.व्ही. के पॉवर स्टेशन का लोकार्पण किया गया है। दोनों पॉवर स्टेशनों का शुभारंभ होने से कई गांवो में किसी भी प्रकार की बिजली समस्या नहीं रहेगी। डिंडोरी जिले में पहले बिरसिंहपुर पाली और जबलपुर से बिजली की आपूर्ति की जाती थी। जिससे गांव-गांव में बिजली आपूर्ति करने में बहुत कठिनाई होती थी। अब डिंडोरी जिले में पॉवर स्टेशन स्थापित होने पर हमारा जिला भी विद्युत के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन गया है।

Ad Block is Banned