हार्मोन्स में गड़बड़ी भी अनिद्रा का कारण

हार्मोन्स में गड़बड़ी भी अनिद्रा का कारण

आजकल नींद न आना एक बड़ी समस्या बनती जा रही है। पुरुषों की तुलना में इसके मामले महिलाओं में ज्यादा पाए जाते हैं। इनमें गहरी नींद न आने (साउंडस्लीप) की दिक्कत अधिक होती है। अधूरी नींद मानसिक व शारीरिक रोगों का कारण बनती है। जानते हैं नींद न आने के कारण और समाधान।

वजह: अव्यवस्थित जीवनशैली, तनाव, हार्मोंस में गड़बड़ी, अधिक चाय-कॉफी पीने, रजोनिवृत्ति के बाद किसी प्रकार का मानसिक या शारीरिक रोग, भय के अलावा गर्भावस्था के दौरान प्रसव की चिंता, पेशाब का बार-बार आना, एसिडिटी व पैर-पेट में दर्द बने रहने से भी अनिद्रा की दिक्कत होती है।
परेशानी: नींद न आने से मन उदासीन रहने के साथ रोजमर्रा के काम प्रभावित होते हैं। चीजों को भूलने व मूड स्विंग की समस्या देखने को मिलती है। स्वस्थ रहने के लिए 7-8 घंटे की नींद जरूरी है।
इलाज : मरीज को दिनचर्या में बदलाव करने और कुछ खास बातों को ध्यान में रखने की सलाह दी जाती है। जैसे-
नियमित व्यायाम करें और दिन के समय अधिक न सोएं।
सोने से पहले तनाव को भूलने की कोशिश करें।
कोल्ड ड्रिंक, चाय या कॉफी सोने से पहले न पीएं।
डिनर में हल्का व सुपाच्य भोजन करें।
सोने के लिए शांत व कम रोशनी वाली जगह को चुनें।
डॉ. सुशीला खुटेटा, स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned