World Hypertension Day: युवाओं में बढ़ रहे हैं हाइपरटेंशन के मामले, ये हैं कारण

World Hypertension Day 2020: देश में पांच में से एक युवा हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप का शिकार है। युवाओं में हाइपरटेंशन मौत का बड़ा कारण बन रहा है। इससे हार्ट अटैक, स्ट्रोक, किडनी सम्बंधी समस्याएं हो सकती हैं...

World Hypertension Day 2020: देश में पांच में से एक युवा हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप का शिकार है। युवाओं में हाइपरटेंशन मौत का बड़ा कारण बन रहा है। इससे हार्ट अटैक, स्ट्रोक, किडनी सम्बंधी समस्याएं हो सकती हैं।आइए जानते हैं इसके कारण व बचाव के बारे में :-

युवाओं में हाइपरटेंशन के कारण
- युवा फिजिकल गेटअप के लिए जिम जाते हैं लेकिन नियमित व्यायाम नहीं करते। पानी की कमी से भी हाइपर टेंशन की दिक्कत होती है। शहरों में ई-सिगरेट, हुक्का, सिगरेट और गांवों में गुटखा, तम्बाकू, बीड़ी पीने से दिक्कत बढ़ा रही है।

- बचपन में हाई बीपी है तो युवावस्था में हृदय रोगों का खतरा बढ़ता है। मोटे बच्चों में वजन नियंत्रण न करने से बीमारियों की आशंका बढ़ती है। आधुनिक जीवनशैली व खानपान प्रमुख कारण है।

इन वजहों से दिक्कत
हाइपर टेंशन की दिक्कत डायबिटीज रोगियों, हाई कॉलेस्ट्रॉल के मरीजों में ज्यादा है। डायबिटीज रोगियों में हाइपर टेंशन की आशंका दोगुनी हो जाती है।

नमक की मात्रा ज्यादा
नमक की मात्रा ज्यादा, निष्क्रिय जीवन शैली, सब्जियां, फल अपेक्षाकृत कम खाने, जंकफूड व कोल्ड ड्रिंक का चलन बढ़ने से दिक्कत बढ़ी है। नियंत्रित वजन, स्मोकिंग न करने व संतुलित खानपान से डायबिटीज, हाई कॉलेस्ट्रॉल के खतरे से बच सकते हैं।

Show More
युवराज सिंह Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned