मुर्गे के लिए युवक को उतार दिया था मौत के घाट

डूंगरपुर. धंबोला थाना क्षेत्र के पाडली गुजरेश्वर में होली के दिन चाकू से गला रेत कर हत्या करने के मामले का पुलिस ने गुरुवार को खुलासा करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। साथ ही एक विधि से संघर्षरत बालक को भी डिटेन किया। आरोपियों ने मात्र एक मुर्गो छीनने के लिए युवक की बेरहमी से हत्या कर दी थी।

By: Harmesh Tailor

Updated: 03 Apr 2021, 06:15 PM IST


डूंगरपुर. धंबोला थाना क्षेत्र के पाडली गुजरेश्वर में होली के दिन चाकू से गला रेत कर हत्या करने के मामले का पुलिस ने गुरुवार को खुलासा करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। साथ ही एक विधि से संघर्षरत बालक को भी डिटेन किया। आरोपियों ने मात्र एक मुर्गो छीनने के लिए युवक की बेरहमी से हत्या कर दी थी।
यह था मामला
पाडली गुजरेश्वर निवासी शंकर पिता हीरा कनिपा ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसमें बताया कि २८ मार्च को सुबह नौ बजे उसका पुत्र मणिलाल व बड़े पुत्र धना का ***** दादु पिता हुरमा कनिपा निवासी माता टेम्बा दोनों सीमलवाड़ा जाने निकले। प्रार्थी की पत्नी कान्ता व पोता भुरा पुत्र रूमाल भी घरेलू सामान लेने पाडली गुजरेश्वर गए थे। घर पर प्रार्थी व उसका लड़का कालू थे। दोपहर करीब दो बजे पोता भुरा भागता हुआ आया तथा बताया कि पेड़ के पास बाबा मणिलाल को मार दिया है। इस पर प्रार्थी मौके पर पहुंचा। मणिलाल के शरीर में खून निकल रहे थे तथा गले पर चाकू से वार किए हुए थे। 108 एम्बुलेंस से डूंगरपुर अस्पताल लाए यहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। उक्त रिपोर्ट पर पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया।
इनको किया गिरफ्तार
पुलिस अधीक्षक सुधीर जोशी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री अशोक मीणा के निर्देशन एवं वृत्ताधिकारी सीमलवाडा रामेश्वरलाल के सुपरविजन में एसआई अरूण खांट, कांस्टेबल जयेश कुमार, जीतमल, दिनेश, नारायणलाल की टीम गठित की गई। मुखबिर तंत्र की सहायता से अथक परिश्रम कर घटना का राजफाश करते हुए सासरपुर फला घाटा दुबारा निवासी अमृतलाल (20) पुत्र नारायणलाल खराड़ी, सासरपुर फला कंजडिया निवासी प्रकाश (28) पुत्र नारायणलाल रोत को गिरफ्तार किया। साथ ही एक बाल अपचारी को भी डिटेन किया।
मामले से जुड़े अन्य पहलूओं पर अनुसंधान जारी है।
यूं की थी वारदात
थानाधिकारी ने बताया कि मृतक मणिलाल व उसके भाई का ***** दादु सीमलवाड़ा से मुर्गा खरीद कर घर लौट रहे थे। पाडली बस स्टेण्ड से मोरन नदी के किनारे सीसी सड़क पर आम के वृक्षों के समीप अमृतलाल, प्रकाश और व विधि से संघर्षरत बालक तीनों थे। उन्होंने मणिलाल व दादु को जाते हुए पूछा कि क्या लेकर जा रहे हो जिस पर मुर्गा ले जाना बताया। तीनों ने मुर्गा उनको देने को कहा। मृतक मणिलाल ने मना कर दिया। इस पर तीनों ने मणिलाल पर चाकू व कांच की बोतल से वार कर दिया। बीच बचाव करने आए दादू से भी मारपीट की। इससे वह डर के मारे भाग गया। चाकू व बोतल के वार से मणिलाल नीचे गिर गया और तीनों मोटरसाइकिल लेकर भाग गए।

Harmesh Tailor Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned