MRP से अधिक कीमत पर सामान बेचा तो होगी कार्रवाई, वॉलिंटियर्स पहुंचाएंगे घरों में जरूरी सामान, खुला कंट्रोल रूम

लॉक डाउन के दौरान दुकानदार सामानों को एमआरपी (MRP) यानी अधिकतम खुदरा मूल्य से ज्यादा कीमत पर नहीं बेच पाएंगे। ऐसा किए जाने पर दुकानदार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। (coronavirus in Chhattisgarh)

Dakshi Sahu

26 Mar 2020, 04:35 PM IST

दुर्ग. लॉकडाउन के दौरान दुकानदार सामानों को एमआरपी यानी अधिकतम खुदरा मूल्य से ज्यादा कीमत पर नहीं बेच पाएंगे। ऐसा किए जाने पर दुकानदार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही दुकान खुली रखने की छूट भी रद्द कर दी जाएगी। कलेक्टर अंकित आनंद ने इस संबंध में निर्देश जारी किया है। गौरतलब है कि लॉक डाउन का फायदा उठाकर प्रदेश के कुछ शहरों में सामानों के अधिक कीमत पर बिक्री की शिकायतें सामने आ रही थी। इसे देखते हुए राज्य शासन की ओर से कलेक्टरों को निर्देश जारी किया गया था।

खुला कंट्रोल रूम
कोरोना संक्रमण के रोकथाम व लॉक डाउन से संबंधित जानकारी व सूचनाओं के लिए कलेक्टोरेट में कंट्रोल रूम बनाया गया है। कंट्रोल रूम में 24 घंटे कर्मचारियों की ड्यूटी रहेगी, जो लोगों को जानकारियां देने के साथ शिकायत के निराकरण भी कराएंगे। कंट्रोल रूम का फोन नंबर 0788-2210773 है।

दो दुकानों पर कार्रवाई
प्रतिबंध की अनदेखी करने वाली दो दुकानदारों में नगर निगम के अधिकारियों ने दबिश दी। दोनों दुकानदारों से 5 हजार रुपए जुर्माना वसूल किया गया। निगम प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक जरूरी सामान बेचने वाले दुकानदारों को लॉक डाउन की अवधि में सुबह 9 से शाम छह बजे तक दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है, लेकिन इसका उल्लंघन कर इंदिरा मार्केट पुराना बस स्टैंड क्षेत्र में अनाज के थोक व्यापारी नीलेश जैन व इंदिरा मार्केट के अग्रवाल मिष्ठान भंडार का संचालक ने शाम छह बजे के बाद भी दुकान खोल रखा था। इस पर नीलेश जैन से 3000 और अग्रवाल मिष्ठान भंडार से 2000 रुपए जुर्माना वसूल किया गया।

वॉलिंटियर्स पहुंचाएंगे घरों में जरूरी सामान

लॉक डाउन के दौरान लोगों को परेशानी से बचाने दुर्ग और भिलाई नगर निगम ने नई व्यवस्था की है। इसके तहत अब नगर निगम द्वारा वार्डों में वॉलिंटियर्स की नियुक्ति की जाएगी। ये वॉलिंटियर्स अपने वार्डों के जरूरतमंद लोगों के घर तक जरूरत की चीजें पहुंचाएंगे। नगर निगम इसके लिए बकायदा वॉलिंटियर्स का पंजीयन कर पहचान पत्र जारी करेंगे। निगम का कहना है कि इससे बाजार में भीड़ कम की जा सकेगी,वहीं जरूरतमंद लोगों को घर से बिना निकले आसानी से सामान भी मिल जाएगा।

लॉक डाउन के दौरान रोक के बाद भी बाजार इलाकों में सामान खरीदने के नाम पर लगातार पहुंच रही है। हालात यह है कि भीड़ के कारण जिला प्रशासन को हटरी बाजार, सराफा बाजार, राम मंदिर चौक और पांच कंडिल चौक के दायरे में आने वाले अनाज, तेल, फल, सब्जी व दूसरे जरूरी सामानों के दुकानों को भी बंद कराना पड़ा है। यहां हर दिन हजारों की भीड़ जुट रही थी।

इस तरह की परेशानी दूसरे बाजार क्षेत्रों में ना हो इसलिए नगर निगम प्रशासन द्वारा यह व्यवस्था की है। लोगों को जरूरी सामान पहुंचाने के लिए वॉलिटिंयर्स बनने नाम, वार्ड, पता, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फोटो निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन के निज सहायक भूपेंद्र गोइर के वाट्सऐप नंबर 7724010333 में भेजना होगा। इस आधार पर संबंधित की पड़ताल कर निगम द्वारा आईडी कार्ड दिया जाएगा।

इस तरह पहुंचेगा जरूरतमंदों तक सामान
निगम प्रशासन द्वारा केवल ऐसे लोगों को वॉलिंटियर्स बनाया जाएगा, जिसका अपने वार्ड, मोहल्ला और कॉलोनी में अच्छा जनसंपर्क हो और लोग जानते पहचानते हों। कार्ड जारी होने के बाद जरूरतमंद लोग इनसे संपर्क कर सकेंगे। ये जरूरतमंदों से पैसे लेकर सामान लेकर उन तक पहुंचाएंगे। कार्ड होने के कारण इन्हें आवाजाही में परेशानी नहीं होगी।

एक वार्ड में होंगे तीन वॉलिंटिर्स
निगम प्रशासन द्वारा फिलहाल एक वार्ड तीन वालिंटियर्स बनाने का निर्णय किया गया है, ताकि आसानी से जरूरतमंदों को घर पहुंच सेवा मिल सके। निगम कमिश्नर बर्मन ने बताया कि वॉलिंटिर्स के लिए सेवा भावी युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। निगम प्रशासन द्वारा इस दिशा मेंं काम शुरू कर दिया गया है।

china Coronavirus China Coronavirus outbreak
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned