करोड़ों ठगने के बाद पुलिस ने चिटफंड कंपनी के छह संचालकों पर दर्ज किया जुर्म

Satya Narayan Shukla

Publish: Dec, 08 2017 11:38:59 (IST)

Durg, Chhattisgarh, India
करोड़ों ठगने के बाद पुलिस ने चिटफंड कंपनी के छह संचालकों पर दर्ज किया जुर्म

पन्ना क्रेडिट एंड थ्रीप्ट मल्टी स्टेट को-ऑपरेटिव सोसायटी ने लोगों से दो करोड़ लेकर कंपनी को बंद कर दिया। 6 डायरेक्टर पर एफआईआर दर्ज।

दुर्ग . कम समय में अधिक मुनाफा देकर ठगी करने का मामला एक बार फिर सामने आया है। पन्ना क्रेडिट एंड थ्रीप्ट मल्टी स्टेट को-ऑपरेटिव सोसायटी ने लोगों से दो करोड़ लेकर कंपनी को बंद कर दिया। इस मामले में पुलिस ने चिटफंड कंपनी के छह डायरेक्टर पर एफआईआर दर्ज की है। हालांकि अब तक कंपनी ने कुल कितने कारोबार किया है, इसका खुलासा पुलिस नहीं कर पाई है, लेकिन पीडि़त हितग्राहियों की निवेश राशि को देखने के बाद पुलिस का कहना है कि चिटफंड कंपनी ने दो करोड़ से भी अधिक राशि का हेर-फे र किया है।

एक टेबल-कुर्सी से की शुरुआत

जानकारी के मुताबिक वर्ष २०१३ में ग्रीन चौक पटेल कांप्लेक्स में पन्ना क्रेडिट एंड थ्रिप्ट मल्टी स्टेट को-ऑपरेटिव सोसायटी की शुरुआत की गई। तब कार्यालय में केवल एक टेबल व दो-तीन कुर्सियां ही थी। बाद में कार्यालय को आलीशान बनाया गया। ऑफिस पहुंचे निवेशकों की अच्छी खातिरदारी भी की जाती थी। लगातार शटर बंद होने पर निवेशकों की नींद टूटी और फिर की शिकायत की।

पश्चिम बंगाल के हैं आरोपी
पुलिस के मुताबिक कंपनी के डायरेक्टर पश्चिम बंगाल के है। वर्तमान में उन्हें छह नाम मिले हैं। जिनके खिलाफ एफआईआर की है। आरोपी में डायरेक्टर मनोरंजन राय, राजकुमार राय, हरिसिंग, दीपांकर सिंह, जे.पी. कुंजबिहारी शामिल है। पुलिस ने इनके खिलाफ धोखाधड़ी की धारा के अलावा छग निवेशकों के हितों का संरक्षण अधिनियम की धारा 10 और चिटफंड अधिनियम की धारा 4,5,6 के तहत जुर्म दर्ज किया है।

चिटफंड कंपनियां के खिलाफ ज्यादातर मामले सुपेला, छावनी और नेवई थाने में

२० अगस्त २०१५ चिटफंड यश गु्रप ऑफ कंपनी ने दुर्ग संभाग के करीब 500 से अधिक लोगों ने करीब 25 करोड़ इन्वेस्ट कराकर चूना गया था। जिसकी शिकायत सुपेला थाने में की थी।
२३ अगस्त २०१६ शुष्क इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने पैसे डबल करने के नाम करीब ३०० लोगों को चूना लगाकर फरार हुए। मोहन नगर पुलिस तीनों एजेंटों को गिरफ्तार कर लाई थी।
२२ जनवरी २०१७ साईं प्रसाद चिटफंड कंपनी ने पूरे छत्तीसगढ़ में तकरीबन 11 सौ करोड़ रुपए एकत्रित किए। चिटफंड कंपनी की एजेंट गायत्री साहू को गिरफ्तार किया।
२१ जून २०१७ पीआईसीएल चिटफंड कंपनी के तीन डायरेक्टर्स को गिरफ्तार कर दिल्ली से दुर्ग लाए थे। पैसे को 8 माह में डबल करने का झांसा देकर करोड़ों रुपए हड़पे।

पंद्रह निवेशक ही आए सामने
इस मामले में भिलाई निवासी मनीराम मेश्राम ने थाने में शिकायत की है। शिकायत की जब जांच की गई तो पंद्रह लोगों ने भी अपनी शिकायत दर्ज कराई। अनुमान लगाया जा रहा है कि कंपनी ने लगभग तीन सौ से अधिक लोगों से बड़ी रकम निवेश कराई है।

जल्द टीम जाएगी पश्चिम बंगाल
टीआई, मोहन नगर गोपाल वैश्य ने बताया कि मामले में एफआईआर हुई है। रकम लगभग दो करोड़ के आसपास होने का अनुमान है। कंपनी में और निवेशक मिलने पर हम शिकायत को प्रकरण में संलग्न करते जाएंगे। जल्द ही टीम गठित कर आरोपियों को गिरफ्तार करने पश्चिम बंगाल रवाना किया जाएगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned