Corona Period में Migrant Laborers के लिए वरदान बना Indian Railway, जानिए कितने लोगों को दी Jobs

  • Indian Railway की ओर से अभी तक 90,000 से अधिक मानवदिवस के बराबर रोजगार सृजन किया गया
  • Piyush Goyal के अनुसार, Employment के लिए किया जा चुका है 328 करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान

By: Saurabh Sharma

Updated: 13 Jul 2020, 01:17 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के दौर ( Coronavirus Era ) में भारतीय रेलवे ( Indian Railways ) प्रवासी मजदूरों ( Migrant Labourers ) के लिए वरदान से कम नहीं रहा है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना ( Prime Minister Garib Kalyan Rojgar Yojana ) के तहत भारतीय रेलवे 90,000 से अधिक मानवदिवस के बराबर रोजगार पैदा कर चका है। जिसके लिए 328 करोड़ रुपए की राशि दी जा चुकी है। इस बात की जानकारी खुद रेल मंत्री पीयूष गोयल ( Railway Minister Piyush Goyal ) ने दी है।

यह भी पढ़ेंः- 1947 रुपए के साथ 52 हफ्तों की ऊचाई पर पहुंचा RIL का Share, 110 दिनों में 129 फीसदी का Return

रेलवे के कई प्रोजेक्ट्स में दिया जा रहा है काम
दी गई जानकारी के अनुसार भारतीय रेलवे की ओर से गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए चल रहे कई प्रोजेक्ट्स में प्रवासी मजदूरों को काम दिया जा रहा है। 125 दिन इस अभियान में 8 लाख मानवदिन के बराबर रोजगार पैदा किए गए हैं। इसके अलावा कोरोना वायारस महामारी के कारण रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेन, खाद्य आपूर्ति, कोविड केयर कोच जैसे काम कर अपना योगदान पहले से ही दे रहा है। अब रेलवे इससे आगे बढ़ते हुए नवादा, बिहार में घर लौटे प्रवासी मजदूरों को गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत रोजगार दिया है।

यह भी पढ़ेंः- Packet पर Country Origin ना लिखने मिलेगी यह सजा, सरकार ने जारी किया फरमान

इतनी जगहों पर दिया गया है काम
रेलवे मिनिस्टर की ओर से दी गई जानकारी के कारण कोरोना वायरस की वजह से अपने घरों को लौटे कामगारों को रेलवे रोजगार उपलब्ध करा रहा है। अभी तक रेलवे के 138 कंस्ट्रक्शन साइट्स पर 90 हजार से ज्यादा मानवदिवस के बराबर रोजगार रोलगार दिया जा चुका है। इसके लिए अलावा 328 करोड़ रुपए से ज्यादा का भुगतान किया जा चुका है।

कोरोना वायरस कोरोना वायरस समाचार
Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned