पीएम मोदी की इस योजना से देश के 4 करोड़ से ज्यादा लोगों को होगा फायदा, जानिए क्या है मामला

  • राजस्थान 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' लागू करने वाला 12वां राज्य बना
  • राज्य खुला 2,731 करोड़ रुपए के अतिरिक्त वित्तीय संसाधन जुटाने में सक्षम

By: Saurabh Sharma

Updated: 10 Feb 2021, 09:30 AM IST

नई दिल्ली। राजस्थान केंद्रीय वित्त मंत्रालय द्वारा निर्धारित 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' सुधार-प्रणाली को सफलतापूर्वक पूरा करने वाला देश का 12वां राज्य बन गया है। साथ ही, राज्य खुला बाजार उधारों के माध्यम से 2,731 करोड़ रुपये के अतिरिक्त वित्तीय संसाधन जुटाने में सक्षम हो गया है और इसकी अनुमति व्यय विभाग ने जारी की है।

राजस्थान अब आंध्र प्रदेश, गोवा, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, त्रिपुरा और उत्तर प्रदेश जैसे 11 अन्य राज्यों में शामिल हो गया है, जिन्होंने इस सुधार को पूरा किया है।'वन नेशन, वन राशन कार्ड' सुधार-प्रणाली के पूरा होने पर इन 12 राज्यों को व्यय विभाग द्वारा 33,440 करोड़ रुपए की अतिरिक्त उधार अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ेंः- इस एजेंसी ने किया दावा, बजट में रखे प्रस्तावों से इंश्योरेंस सेक्टर होगा मजबूत

यह होगा फायदा
'वन नेशन, वन राशन कार्ड' प्रणाली एक नागरिक-केंद्रित सुधार है। इसके कार्यान्वयन से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) और अन्य कल्याणकारी योजनाओं के तहत लाभार्थियों, विशेषकर प्रवासी श्रमिकों और उनके परिवारों को देशभर में किसी भी उचित मूल्य की दुकान (एफपीएस) पर राशन की उपलब्धता सुनिश्चित होती है।

यह भी पढ़ेंः- 2021 में आम लोगों की जेब पर टूटा कहर, 4 रुपए तक महंगा हो गया पेट्रोल और डीजल

इन लोगों को मिलेगा फायदा
यह सुधार-प्रणाली विशेष रूप से प्रवासी, श्रमिक, दिहाड़ी मजदूर, कचरा बीनने वाले, सड़क पर रहने वाले, संगठित व असंगठित क्षेत्रों में अस्थायी श्रमिकों, घरेलू कामगारों आदि को सशक्त बनाता है, जो अक्सर खाद्य सुरक्षा में आत्मनिर्भर होने के लिए अपने निवास स्थान को बदलते रहते हैं। प्रौद्योगिकी-संचालित यह सुधार-प्रणाली प्रवासी लाभार्थियों को देश में कहीं भी अपनी पसंद के किसी भी ई-पीओएस वाली दुकानों से खाद्यान्न का कोटा प्राप्त करने में सक्षम बनाती है।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned