भारत-सिंगापुर हैकाथन से प्रौद्योगिकी, युवा शक्ति को मिलेगा बढ़ावा : पीएम मोदी

भारत-सिंगापुर हैकाथन के पहले छह विजेताओं को पुरस्कार देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि यह मंच प्रौद्योगिकी, नवाचार व युवा शक्ति को बढ़ावा देगा। शीर्ष छह टीमों में से तीन भारत व तीन सिंगापुर से थीं।

By: जमील खान

Published: 15 Nov 2018, 02:46 PM IST

भारत-सिंगापुर हैकाथन के पहले छह विजेताओं को पुरस्कार देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि यह मंच प्रौद्योगिकी, नवाचार व युवा शक्ति को बढ़ावा देगा। शीर्ष छह टीमों में से तीन भारत व तीन सिंगापुर से थीं। इन्हें अंतिम सत्र के बाद चुना गया था। भारत से विजेता टीम में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खडग़पुर (आईआईटी खडग़पुर), राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, तिरुचिरापल्ली (एनआईटी त्रिची) व एमआईटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग पुणे शामिल हैं। सिंगापुर की विजेता टीमों में नानयांग टेक्नोलॉजिकल विश्वविद्यालय (एनटीयू) व सिंगापुर डिजायन व प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (एसयूटीडी) शामिल हैं।

मोदी ने कहा, सिंगापुर-भारत हैकाथन जैसे मंच हमारे युवाओं के कार्यों को दिखाने के लिए बेहतरीन मंच का कार्य करते हैं। ये दूसरे देशों व संस्थानों के युवाओं के नवाचार को सीखने के लिए भी मंच प्रदान करते हैं। यह हमारे छात्रों के लिए लाभकारी हैं। सिंगापुर व भारत की तीन-तीन विजेता टीमों के लिए प्रथम पुरस्कार 10,000 एसजीडी, दूसरा पुरस्कार 6,000 एसजीडी व तीसरे पुरस्कार 4000 एसजीडी की घोषणा की गई।

मोदी ने हैकाथन के विजेताओं से मिलने के बाद कहा कि वह दुनिया की समस्याओं को हल करने की उनकी प्रतिबद्धता व जोश से प्रभावित हैं। प्रधानमंत्री मोदी पूर्व एशिया शिखर सम्मेलन, आसियान-भारत अनौपचारिक बैठक व क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी (आरसीईपी) शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को सिंगापुर पहुं

Narendra Modi PM Narendra Modi Prime Minister Narendra Modi
Show More
जमील खान
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned