उत्तराखंड में 'Super 100' शुरू, लड़कियों को मिलेगी फ्री मेडिकल, इंजीनियरिंग कोचिंग

गरीब छात्रों को इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराने वाले संस्थान 'सुपर 30' के संस्थापक आनंद कुमार की तर्ज पर उत्तराखंड के शिक्षा विभाग ने 'सुपर 100' शुरू किया है जिसके जरिए मेधावी छात्राओं को मेडिकल और इंजीनियरिंग परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग दी जाएगी।

By: जमील खान

Published: 03 Jan 2019, 07:35 PM IST

गरीब छात्रों को इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराने वाले संस्थान 'सुपर 30' के संस्थापक आनंद कुमार की तर्ज पर उत्तराखंड के शिक्षा विभाग ने 'सुपर 100' शुरू किया है जिसके जरिए मेधावी छात्राओं को मेडिकल और इंजीनियरिंग परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग दी जाएगी। प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने मंगलवार को राजीव गांधी नवोदय विद्यालय में शुभारंभ किया। योजना के तहत, प्रदेश के प्रत्येक 95 ब्लॉक में से एक मेधावी छात्रा को संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) और संयुक्त प्री मेडिकल टेस्ट (सीपीएमटी) के लिए 100 घंटे की कोचिंग दी जाएगी। दसवीं कक्षा में मिले अंकों के आधार पर 12वीं में पढ़ रही लड़कियों को इसके लिए शॉर्ट लिस्ट किया गया है। शिक्षा मंत्री पांडे ने बताया कि चयनित लड़कियों को उनके द्वारा चुने गए कोर्सेस के आधार पर कोचिंग दी जाएगी।

मंत्री ने आगे कहा कि चयनित छात्राओं को नवोदय विद्यालय में मुफ्त आवास और भोजन दिया जाएगा। सरकार ने शिक्षकों का भी चयन कर लिया है जो स्कूल परिसर में छात्राओं के साथ रहेंगे। 100 घंटे के कोर्स के खत्म होने के बाद छात्राओं को एक साल की ट्रेनिंग के लिए फिर से शॉर्ट लिस्ट किया जाएगा। शिक्षा विभाग के सचिव भूपिंदर सिंह ऑलख ने कहा कि सभी स्टुडेंट आईआईटी और मेडिकल परीक्षाओं को पास करने के लिए इच्छुक होंगी। हम उन छात्राओं को शॉर्ट लिस्ट करेंगे जो मेडिकल और इंजीनियरिंग में अपना कॅरियर बनाना चाहती हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले साल उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश के मेधावी स्टुडेंट्स के लिए 'सुपर 30' प्रोग्राम शुरू किया था। इनमें से 28 स्टुडेंट्स का आईआईटी और एनआइटी में चयन हो गया था।

Show More
जमील खान
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned