दिव्या खोसला कुमार का सोनू निगम पर पलटवार, कहा-इवेंट में 5 रुपए में गाते थे, तब गुलशन कुमार ने दिया साथ...

By: Mahendra Yadav
| Published: 02 Jul 2020, 10:22 PM IST
दिव्या खोसला कुमार का सोनू निगम पर पलटवार, कहा-इवेंट में 5 रुपए में गाते थे, तब गुलशन कुमार ने दिया साथ...
Divya khosla kumar and sonu nigam

टी—सीरीज के मालिक भूषण कुमार की पत्नी दिव्या खोसला कुमार ने सोनू निगम को जवाब दिया है। उनका कहना है कि सोनू निगम के सभी आरोपों गलत और बेबुनियाद हैं।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद नेपोटिज्म और गुटबाजी का मुद्दा गर्मा गया है। बॉलीवुड भी इस मामले में दो गुटों में बंट गया है। एक गुट इंडस्ट्री में नेपोटिज्म होने की बात मानता है, वहीं दूसरा गुट इससे इंकार कर रहा है। सिंगर सोनू निगम ने म्यूजिक इंडस्ट्री पर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि म्यूजिक इंडस्ट्री, फिल्मों से बड़ा माफिया है। उन्होंने आरोप लगाए हैं कि म्यूजिक इंडस्ट्री सिर्फ दो कंपनियां और दो लोग ही चला रहे हैं। उन्होंने टी—सीरीज कंपनी पर कई आरोप लगाए हैं। अब इस मामले में टी—सीरीज के मालिक भूषण कुमार की पत्नी दिव्या खोसला कुमार ने सोनू निगम को जवाब दिया है। उनका कहना है कि सोनू निगम के सभी आरोपों गलत और बेबुनियाद हैं।

दिव्या खोसला कुमार का सोनू निगम पर पलटवार, कहा-इवेंट में 5 रुपए में गाते थे, तब गुलशन कुमार ने दिया साथ...

दिव्या का कहना है कि टी-सीरीज़ देश का सबसे बड़ा संगीत चैनल बन गया है। इसमें वह कई गायकों, संगीत निर्देशकों, कलाकारों और गीतकारों को अपने साथ लेकर चल रहा है। ऐसे में कंपनी पर आरोप लगाया गया है कि वे भाई-भतीजावाद में लिप्त हैं, यह पूरी तरह से निराधार दावा है। दिव्या का कहना है कि कंपनी ने इंडस्ट्री की प्रतिभाओं को भी मौका दिया है, जिन्होंने संगीत के क्षेत्र में अपनी योग्यता साबित की है। साथ ही उन्होंने बाहरी लोगों से उनके अवसरों को कभी नहीं छीना, जो इसके हकदार थे।

दिव्या ने कहा,'टी-सीरीज परिवार ने अब तक 80% कलाकारों को अवसर दिया है। 20% वे हैं, जिन्हे हम काम नहीं दे पाए हैं, वे शिकायत कर रहे हैं, लेकिन हर किसी को मौका देना संभव नहीं है, लोगों को यह समझना चाहिए।' दिव्या का कहना है कि सोनू निगम ने भूषण और टी-सीरीज परिवार पर भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है, जबकि टी—सीरीज ने ही सोनू को पहला ब्रेक दिया था। उन्होंने कहा,'सोनू जी, आप दिल्ली के इवेंट में 5 रुपये में गा रहे थे। गुलशन कुमार ने आपको देखा और आपको यहां ले आए। उन्होंने आपके टिकटों का भुगतान किया और आपको पहला ब्रेक दिया। वह आपको ब्रेक देने के बाद भी कई मौके देते रहे। जब तक आप इंडस्ट्री में एक स्थापित कलाकार नहीं बन गए, तब तक उन्होंने आपको अवसर दिया। जब गुलशन जी को माफिया द्वारा गोली मार दी गई थी और परिवार एक संकट से गुजर रहा था,उस वक्त आप परिवार के साथ नहीं थे। उस वक्त भूषण सिर्फ 18 वर्ष के थे। जब टी-सीरीज़ अपने सबसे खराब दौर से गुजर रही थी, तो आपने एक प्रतिद्वंद्वी संगीत कंपनी के साथ जाने का फैसला किया। क्या तुम एहसान फरामोश नहीं थे?'