BJP विधायक सत्यपाल सिंह राठौर से दुबई से मांगी गई रंगदारी, परिवार सहित जान से मारने की धमकी

एटा के अलीगंज से भाजपा विधायक सत्यपाल सिंह राठौर को भी धमकी मिली है।

By: धीरेंद्र यादव

Published: 24 May 2018, 11:57 AM IST

एटा। भाजपा विधायकों को धमकी मिल रही हैं। एटा के अलीगंज से भाजपा विधायक सत्यपाल सिंह राठौर को भी धमकी मिली है। धमकी देने वाले ने साफ शब्दों में कहा है कि यदि 10 लाख रुपये नहीं मिले, तो परिवार सहित जान से मार दिया जाएगा। धमकी मिलने के बाद दहशत में आए विधायक ने एसएसपी से शिकायत की, जिसके बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। बता दें कि कुशीनगर विधायक रजनीकांत को भी ऐसी ही धमकी मिली है।

आया मैसेज
भाजपा विधायक सत्यपाल सिंह राठौर के व्हाट्सएप पर एक मैसेज आया, जिसमें कहा गया कि वे दस लाख रुपए दें वर्ना परिवार समेत जान से मार दिए जाएंगे। इस मैसेज के मिलने के तत्काल बाद विधायक ने एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया से बात की और पूरा मामला बताया। एसएसपी ने जिस नंबर से मैसेज आया उसे तत्काल सर्विलांस पर लगवा दिया, लेकिन मैसेज किसने किया, यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है। मैसेज 21 मई की रात 2 बजे आया था।

दुबई से अली बुदेश भाई की धमकी
पुलिस जांच में सामने आया है कि ये मैसेज दुबई से आया है। सर्विलांस टीम भी नंबर पकड़ नहीं पा रही कि उसका मालिक कौन है और मैसेज भेजने का असली मकसद क्या है। मैसेज भेजने वाले ने अपना नाम अली बुदेश भाई बताया है। उसने विधायक से हुई चैट के दौरान मैसेज में लिखा कि मुझे पता है कि आप रुपये की व्यवस्था नहीं करेंगे। जब तक आप परिवार से एक मृत शरीर नहीं देखते। इसके बाद फिर एक मैसेज डाला कि अगर आप अपने परिवार की सुरक्षा चाहते हो दस लाख की व्यवस्था करो। अगले मैसेज में लिखा कि हम आपसे वादा करते हैं कि तीन दिन के भीतर आपका विश्वास पाने के लिए एक-एक करके हत्या करना शुरू कर देंगे।


पैसा जमा कराने के लिए भेजी गई आईडी
अगले मैसेज में लिखा है कि मेरे पास आपके साक्षात्कार के लिए समय नहीं है, इसलिए जो कहा है, वह करो। विधायक ने पूछा किसको पैसा देना है, कोई बात तो करें जवाब मिला बिल्कुल। फिर पूछा गया, पैसे तैयार हैं, विधायक ने कहा किसी को भेजो तो। उधर से कहा गया कि मैं बता रहा हूं कि पैसा कैसे भेज सकते हो। इसके बाद एक आईडी भेजी गई और कहा गया कि इस नंबर पर जमा कर दें। दूसरी तरफ पुलिस यह भी मान रही है कि कहीं मैसेज फेक तो नहीं जैसे कि विदेशी नंबरों से लोगों को ठगने के लिए आते हैं।

Show More
धीरेंद्र यादव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned