बड़ी खबर : फैजाबाद में सरकारी आवास में धर्मान्तरण की खबर पर मचा हड़कम्प

बड़ी खबर : फैजाबाद में सरकारी आवास में धर्मान्तरण की खबर पर मचा हड़कम्प

Anoop Kumar | Publish: Sep, 03 2018 12:11:21 PM (IST) | Updated: Sep, 03 2018 12:48:33 PM (IST) Faizabad, Uttar Pradesh, India

सूचना मिलने पर पुलिस ने शुरू की मामले की जांच हर रविवार को लगती है प्रार्थना सभा

फैजाबाद : फैजाबाद में धर्म परिवर्तन की सूचना से उस समय हड़कंप मच गया जब पुलिस को सूचना मिली कि शहर के सिंचाई विभाग की कॉलोनी में धर्म परिवर्तन हो रहा है।मौके पर पहुंची पुलिस ने पादरी को कस्टडी में ले लिया है हालांकि धर्म परिवर्तन करने वाले केवल प्रार्थना करने की बात कह रहे हैं जबकि जो बच्चे प्रार्थना करने आए थे उनके मां बाप इस बात को नहीं जानते थे कि उनके बच्चे ईसाई धर्म की प्रार्थना करते हैं। यह कार्यक्रम किसी चर्च में ना होकर सिंचाई विभाग की कॉलोनी के एक कमरे में हो रहा था।

सूचना मिलने पर पुलिस ने शुरू की मामले की जांच हर रविवार को लगती है प्रार्थना सभा

फैजाबाद शहर के थाना कैंट क्षेत्र के टीवी टावर के पास सिंचाई विभाग की कॉलोनी की एक कमरे में धर्म परिवर्तन का खेल चल रहा था। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पादरी सुशील को कस्टडी में ले लिया है।मौके पर पहुंचे प्रभारी एसएसपी संजय कुमार एसपी सिटी अनिल सिंह सिसोदिया सीओ सिटी संजय कुशवाहा ने जांच शुरू कर दी है। पता चला है कि यह धर्म परिवर्तन का ये खेल पिछले 1 महीने से चल रहा था।आसपास के बच्चे महिला व पुरुष सिंचाई विभाग के कॉलोनी के कमरे में आकर ईसा मसीह की प्रार्थना करते थे हालांकि किसी ने जबरदस्ती प्रार्थना करवाने की बात नहीं स्वीकारी है लेकिन उनके मां-बाप ने उनके बच्चों की इस कदम से बौखलाए जरूर है और पूरा आरोप सुशील पादरी पर लगाया है कि वह बच्चों को गुमराह कर रहे हैं। सिंचाई विभाग की कॉलोनी के कमरे में 50 से 60 लोग ईसा मसीह की प्रार्थना कर रहे थे। बताया जा रहा है कि हिंदू से ईसाई बना सुशील पादरी बच्चों महिलाओं और पुरुषों को बुलाकर उनका माइंड वास करता था और उसके बाद ईसाई धर्म की शिक्षा देकर धर्मांतरण करवाता था। यह खेल काफी दिनों से चल रहा था लेकिन आज जब पुलिस को सूचना मिली तो उसकी पोल खुल गई फिलहाल आरोपी पादरी कैंट पुलिस की कस्टडी में है।

Ad Block is Banned