pradosh : आज शाम इस उपाय को करने वाले पर शिवजी करेंगे धन और अमृत की वर्षा

pradosh : आज शाम इस उपाय को करने वाले पर शिवजी करेंगे धन और अमृत की वर्षा

Shyam Kishor | Publish: May, 16 2019 11:27:45 AM (IST) त्यौहार

प्रदोष काल में ऐसे करें शिवजी की आराधना

आज 16 मई दिन गुरुवार को वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि है, इस दिन किये जाने वाले व्रत को गुरुवारी प्रदोष व्रत कहा जाता है। इस दिन व्रत करने वाले को भगवान शिवजी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। ऐसी मान्यता है कि त्रयोदशी प्रदोष व्रत करने से अनेक मनोकामनाओं की पूर्ति भगवान शंकर पूरी कर देते हैं। इस दिन जरूर करें यह रामबाण उपाय।

 

करें यह उपाय

आज के दिन श्रद्धा भाव से शाम के समय शिव मंदिर में जाकर शिवजी का शुद्ध जल से 108 बार ऊँ नमः शिवाय मंत्र का जप करते अभिषेक करना चाहिए। ऐसा करने से व्यक्ति को अपार धन की प्राप्ति होने के साथ अमृत्तव भी प्राप्त होता है। कहा जाता हैं कि प्रदोष का व्रत रखने वालें व्यक्ति को 2 गायों के दान करने के बराबर पुण्यफल मिलता है।

 

प्रदोष व्रत कथा

प्रदोष व्रत के बारे शास्त्रों में कथा आती हैं की एक दिन जब चारों दिशाओं में अधर्म का बोलबाला नजर आयेगा, अन्याय और अनाचार अपना चरम सीमा पर होगा, व्यक्ति में स्वार्थ भाव बढ़ने लगेगा, और व्यक्ति सत्कर्म के स्थान पर छुद्र कार्यों में आनंद लेगा, और इस कारण ऐसे लोग जो पाप के भागी बनेंगे, अगर वे प्रदोष का व्रत करने के साथ भगवान शिवजी की विशेष पूजा करेगा उसके इस जन्म ही नहीं बल्कि अन्य जन्म- जन्मान्तर के पाप कर्म भी नष्ट हो जाते हैं औऱ उत्तम लोक की प्राप्ति के साथ मोक्ष की प्राप्ति होती है।

 

प्रदोष व्रत पूजा विधि

प्रदोष व्रत के दिन व्रती को प्रात:काल उठकर नित्य क्रम से निवृत हो स्नान कर शिव जी का पूजन करना चाहिये। पूरे दिन मन ही मन “ऊँ नम: शिवाय” मंत्र का जप करना चाहिए। त्रयोदशी के दिन प्रदोष काल में यानी सूर्यास्त से तीन घड़ी पहले शाम 4:30 बजे से लेकर शाम 7 बजे के बीच की जाती है। व्रती को चाहिये की शाम को दुबारा स्नान कर स्वच्छ श्वेत वस्त्र धारण करें एवं शिव मंदिर में जाकर शिव जी की पूजा विधि-विधान से करने के बाद “ऊँ नम: शिवाय” बोलते हुए शिव जी को शुद्धजल से अभिषेक करें।

 

इस मंत्र का जप करें

शिवजी का शुद्ध जल से अभिषेक करने के बाद इस मंत्र का 108 बार शिवजी के सामने बैठकर जप करें। भगवान शिवजी आपकी सभी मनोकामना पूरी कर देंगे।
मंत्र- “ऊँ ह्रीं क्लीं नम: शिवाय स्वाहा।

*********

Pradosh Vrat
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned