60 लाख पेंशनर्स को मोदी सरकार दे सकते हैं, इस नई स्कीम का लाभ

60 लाख पेंशनर्स को मोदी सरकार दे सकते हैं, इस नई स्कीम का लाभ

manish ranjan | Publish: Sep, 03 2018 11:03:19 AM (IST) फाइनेंस

मोदी सरकार आयुष्मान योजना के लिए बड़ा दांव लगाने जा रही है।

नई दिल्ली। जनधन योजना की तर्ज पर मोदी सरकार आयुष्मान योजना के लिए बड़ा दांव लगाने जा रही है। सरकार कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के लगभग 60 लाख पैंशनर्स को आयुष्मान स्कीम का लाभ देने पर विचार कर रही है। सरकार के इस कदम से तकरीबन 60 लोगों तो एक साल में 5 लाख रुपए का इलाज मुफ्त में करा सकेंगे। आयुष्मान योजना के तहत ये लोग महाराष्ट्र, गुजरात और उत्तर प्रदेश के सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों में जाकर मुफ्त इलाज करवा सकेंगे।


आयुष्मान योजना से मिलेगा फायदा
आयुष्मान योजना से हार्ट सर्जरी, कैंसर सर्जरी सहित अन्य बड़ी सर्जरी और बीमारियों के इलाज में लोगों को काफी फायदा होगा। ऐसे में सभी लोग इसका फायद लेना चाहते है और अपने भविष्य में आने वाली हेल्थ परेशानियों की तैयारी पहले कर लेना चाहते हैं। हाल ही में हुई सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (सीबीटी) की बैठक में सीबीटी मेंबर ने EPFO मेंबर्स को आयुष्मान स्कीम के तहत हेल्थ इन्श्योरेंस का फायदा देने की मांग की है। सरकार इस मांग पर विचार कर रही है। अगर सरकार सीबीटी मेंबर्स की मांग को मान लेती है तो लगभग 60 लाख पेंशनर्स को सालाना 5 लाख रुपए का हेल्थ इन्श्योरेंस मुफ्त मिल जाएगा। उनकी जांचों से लेकर पूरा इलाज पांच लाख रुपए के दायरे तक मुफ्त हाेगा।


मुफ्त में मिल सकता है मेडिकल बेनेफिट
आयुष्मान योज की खास बात ये है की इसके जरिए निजी अस्पतालों में जाकर भी पांच लाख रुपए तक का इलाज करवा सकेंगे। इसी के साथ अन्य बीमारियों के लिए वे दूसरे प्रदेशों का भी रुख कर सकेंगे। इसलिए ही EPFO पिछले काफी समय से अपने पेंशनर्स को इलाज की सुविधा देने की स्कीम पर काम कर रहा है। हालांकि इस स्कीम पर आने वाला खर्च कौन उठाएगा इस पर कोई फैसला नहीं हो पा रहा है। ऐसे में अगर केंद्र सरकार पेंशनर्स को आयुष्मान स्कीम का फायदा देने का फैसला करती है तो इससे पेंशनर्स को मुफ्त में मेडिकल बेनेफिट मिल जाएगा।

Ad Block is Banned