Doorstep Banking: घर चलकर आएगा बैंक, कैश विड्रॉल समेत ले सकते हैं इन सुविधाओं का लाभ

  • Doorstep Banking Service : कोरोना काल में लोगों की सहूलियत के मकसद से इस खास सर्विस को चलाया जा रहा है
  • इस सर्विस में किसी तरह का फ्रॉड न हो इसके लिए सर्विस कोड से होगा वेरिफिकेशन

By: Soma Roy

Published: 17 Oct 2020, 11:17 AM IST

नई दिल्ली। आम आदमी तक बैंकों की पहुंच बढ़ाने और बुजुर्गों एवं अन्य जरूरतमंदों को सहूलियत देने के मकसद से डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस (Doorstep Banking Service) चलाई जा रही है। कोरोना काल के दौरान केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने इसे लांच किया था। इसके बाद से ज्यादातर बड़े बैंक ग्राहकों को ये सुविधा दे रहे हैं। इसमें लोगों को बैंक जाने की जरूरत नहीं है, बल्कि वे घर बैठे ही कैश विड्रॉल, डिपॉजिट, ड्राफ्ट की रसीद मंगवाना आदि सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं।

बैंकों की ओर से चलाए जा रहे इस डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस (Doorstep Banking Services) से 70 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग, दिव्यांग व दृष्टि-बाधित लोगों को मदद मिलेगी। वे बैंक कर्मचारियों को अपने घर पर बुलाकर बैंकिंग सेवाओं का लाभ ले सकते हैं। यह विकल्प बैंक ब्रांच से 5 किलोमीटर की दूरी पर रहने वाले लोगों को ही मिलेगा। इस सर्विस का लाभ लेने के लिए कुछ प्रक्रियाओं को पूरा करना होगा।

घर पर सर्विस पाने के लिए करें ये काम
डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस का लाभ लेने के लिए ग्राहक को रजिस्ट्रेशन कराना पड़ेगा। इसके लिए ग्राहक को बैंक के टोल-फ्री नंबर पर कॉल करना होगा या बैंक की वेबसाइट या मोबाइल ऐप के जरिए लॉगिन कर रिक्वेस्ट करना होगा। जैसे ही आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा वैसे ही बैंक की ओर से आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक कन्फर्मेशन एसएमएस भेजा जाएगा। जिसमें एक कन्फर्मेशन एसएमएस भेजा जाएगा। इसके बाद एक और मैसेज के जरिए ग्राहक को बैंक एजेंट किस दिन और किस तारीख को आएंगे, इन सभी की जानकारी दी जाएगी।

फ्रॉड रोकने के लिए सर्विस कोड से वेरिफाई कराना जरूरी
डोरस्टेप सर्विस एजेंट के रूप में घर में कोई बहरूपिया न आए इसके लिए एजेंट के सर्विस कोड को वेरिफाई करना होगा। सविर्स कोर्ड को ग्राहकों के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर SMS के जरिए भेजा जाएगा। साथ ही डोरस्टेप सर्विस एजेंट (Doorstep Service Agent) से अकाउंट नंबर, अकाउंट, ATM कार्ड या PIN संबंधी कोई जानकारी नहीं साझा करनी होगी।

इन सुविधाओं का मिलेगा लाभ
डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस (Doorstep Banking Service) के ग्राहक घर बैठे चेक, डिमांड ड्राफ्ट, पे ऑर्डर पिक करने जैसी नॉन फाइनेशियल सर्विस का लाभ उठा सकेंगे। इसके अलावा पैसों के लेन-देन से जुड़ी सेवा भी मिलेगी। बैंक ग्राहक मामूली चार्ज पर इस सुविधा का लाभ ले सकते हैं। ऐसा करने पर आपको पैसा निकालने, जमा करने, एफडी के ब्‍याज पर लगने वाला टैक्‍स बचाने के लिए जमा किए जाने वाले फॉर्म-15G व 15H, इनकम टैक्स या जीएसटी चालान जमा करने जैसी सेवाओं का लाभ मिलेगा।

Finance Minister Nirmala Sitharaman
Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned