नोटबंदी को लेकर आरबीआर्इ की चौंकाने वाली रिपोर्ट, बैंकों में इतने वापस आए पुराने नोट

नोटबंदी को लेकर आरबीआर्इ की चौंकाने वाली रिपोर्ट, बैंकों में इतने वापस आए पुराने नोट

Saurabh Sharma | Publish: Aug, 29 2018 12:28:57 PM (IST) फाइनेंस

आरबीआर्इ की आर्इ रिपोर्ट को मानें तो देश में आरबीआर्इ ने 1000 आैर 500 रुपए के 15 लाख 44 हजार करोड़ रुपए बंद कर दिए थे, जिनमें से बैंकों के पास 15 लाख 31 हजार करोड़ रुपए वापस आ गए हैं।

नर्इ दिल्ली। बुधवार को शायद किसी को भनक नहीं थी कि आरबीआर्इ नोटबंदी को लेकर बड़ा खुलासा करेगा। लेकिन हुआ वो भी बड़ा। जिस तरह से अचानक से नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की घोषणा की थी। उसी तरह से नोटबंदी को लेकर आरबीआर्इ ने चौंकाने वाले आंकड़े उजागर कर दिए। आरबीआर्इ ने अपने अांकड़ों में बताया कि उन्होंने कितने रुपए बंद किए थे आैर बैंकों के पास कितने रुपए वापस आए। आपको बता दें कि देश में करीब दो साल पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की घोषणा कर दी थी। जिसके बाद देश में हहाकार मच गया था।

आरबीआर्इ का बड़ा खुलासा
आरबीआर्इ की आर्इ रिपोर्ट को मानें तो देश में आरबीआर्इ ने 1000 आैर 500 रुपए के 15 लाख 44 हजार करोड़ रुपए बंद कर दिए थे। इसका मतलब ये है कि जब नोटबंदी हुर्इ तो देश में 1000 आैर 500 रुपए के 15 लाख 44 हजार करोड़ रुपए संचालित थे। उस समय सरकार आैर आरबीआर्इ का मानना था देश में कालाधन काफी बढ़ गया है। जिसका सबसे बड़ा स्रोत 500 आैर 1000 रुपए के नोट हैं। वहीं कुछ दिनों के बाद देश के कुछ राज्यों में चुनाव होने वाले थे। जिसमें प्रमुख राज्य उत्तर प्रदेश था। सरकार मानना था कि चुनावों में इस कालेधन के इस्तेमाल से वोटर्स को प्रभावित करने की कोशिश की जाएगी। जिसके बाद यूपी में कर्इ सालों के बीजेपी की सरकार बनी थी।

इतने वापस आए रुपए
अब आरबीआर्इ ने खुलासा भी किया है कि 1000 आैर 500 रुपए के कितने रुपए बैंकों के पास वापस आए हैं। वास्तव में नोटबंदी के बाद से विपक्ष इस बात को जानने के लिए अड़ा था कि आखिर बैंकों के पास कितने रुपए नोटबंदी से वापस आए हैं। हैरानी की बात तो तब सोमने आर्इ थी कि जब 2017 के स्वतंत्रता दिवस के दिन लालकिले के प्राचीर से बिना सोर्स के प्रधानमंत्री ने एेलान किया था कि नोटबंदी सफल हुर्इ है आैर इतना रुपया वापस आ गया है। खास बात यह थी कि तब तक आरबीआर्इ ने रुपए वापस आने का कोर्इ आॅफिशियल अंकाड़ा पेश नहीं किया। अब आरबीआर्इ की आॅफिशियल रिपोर्ट सामने आर्इ है उसमें बताया है कि बैंकों के पास 15 लाख 31 हजार करोड़ रुपए वापस आ गए हैं।

अभी भी देश से गायब है 13 हजार करोड़ रुपए
खास बात ये है कि देश में अभी भी करीब 13 हजार करोड़ रुपए के 500 आैर 1000 रुपए के पुराने नोट गायब हैं। अभी देश की आर्थिक एजेंसियां पता नहीं लगा सकी हैं कि आखिर यह 13 हजार करोड़ रुपए गए कहां? जानकारों की मानें तो नोटबंदी के बाद सभी पुराना रुपया बैंकों में वापस आ जाना चाहिए था। लेकिन अभी तक नहीं आ सका है। यह काफी चिंता का विषय है। एजेंसियों आैर सरकार इन रुपयों के बारे में पता लगाना चाहिए। आपको बता दें कि अभी गाहे बगाहे पुराने करंसी पकड़ी जा रही है।

इस दिन हुर्इ नोटबंदी
देश में नोटबंदी की घोषणा देश पर पड़ा सबसे बड़ा वज्र प्रहार था। जो देश के पीएम ने 8 नवंबर 2016 को रात 8 बजे नेशनल टेलीविजन से किया था। जिसके बाद देश के लोगों को 50 दिन का समय दिया गया था पुराने नोटों को बैंकों में जमा कराने के लिए। देश के एटीएम की लाइनों में था। उस दौरान के देश के एटीएम की लाइनों के बाहर कर्इ लोगों ने दम तोड़ दिया था। वहीं पहले आरबीआर्इ ने 2000 रुपए का नया नोट देश के सामने लेकर आएै। उसके बाद 500 रुपए, 200 रुपए, 50 रुपए आैर उसके बाद 10 रुपए का नया नोट सामने आया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned