एक से डेढ़ लाख प्रतिमाह किराया देने वाले होटलों में हो रहा था गंदा काम, एसडीएम की छापेमारी में खुला राज

— फिरोजाबाद के टूंडला क्षेत्र में एसडीएम ने शिकायत के आधार पर की होटलों में छापेमारी, कई युवक और युवतियां मिले।

By: arun rawat

Updated: 15 Apr 2021, 06:43 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में संचालित हो रहे होटलों में गंदा काम हो रहा था। एसडीएम ने जब छापेमारी की सारा मामला खुलकर सामने आ गया। एसडीएम के निर्देश पर होटलों से दर्जन भर युवक और युवतियां पकड़े गए हैं। इनमें से युवतियों को छोड़ दिया गया जबकि युवकों को पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है।
यह भी पढ़ें—

दूध कारोबारी का फिल्मी स्टाइल में अपहरण कर नौ लाख फिरौती मांगने वाले पांच अपहरणकर्ता गिरफ्तार

Chhapemari Hotel

देवी के नाम पर चल रहा था होटल
थाना टूंडला क्षेत्र के उसायनी स्थित माता वैष्णों देवी मंदिर के समीप संचालित हो रहे वैष्णों होटल और जेआरजे में एसडीएम बुसरा बानो, तहसीलदार डॉ. गजेन्द्र पाल सिंह ने छापेमारी की। जहां कई लड़के और लड़कियां मिले। एसडीएम ने होटल के कमरों की तलाशी भी कराई जहां से सामान भी बरामद हुआ है। एसडीएम ने बताया कि जबसे उन्होंने चार्ज संभाला है तभी से उन्हें लगातार होटलों में गलत काम होने की सूचना मिल रही थी। आज उन्होंने सूचना के आधार पर छापेमारी की जहां होटलों में उन्हें लड़के—लड़कियां मिले हैं। लड़कों को पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है। वहीं, होटल संचालकों को बुलाया गया लेकिन वह फरार हो गए हैं। एसडीएम के मुताबिक यदि होटल संचालक उपस्थित नहीं हुए तो होटलों को सील करने की कार्रवाई की जाएगी।
यह भी पढ़ें—

सुहागनगरी में एक बार फिर बढ़ी कोरोना की रफ्तार, 95 नए कोरोना मरीज

महंगे किराए पर हो रहे संचालित
एक होटल में काम करने वाले कर्मचारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि होटल संचालक एक से डेढ़ लाख रुपए प्रतिमाह पर होटल किराए पर लेते हैं। इनमें घंटे के हिसाब से कमरे किराए पर उठाए जाते हैं। इनमें लड़के और लड़कियों को कमरे किराए पर मिल जाते हैं। देहात क्षेत्रों में ही नहीं बल्कि शहर की घनी आबादी के बीच भी होटलों में गलीच धंधा कराया जा रहा है।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned