FA Cup: लीस्टर सिटी ने चेल्सी को हराकर पहली बार जीता खिताब, चैंपियन बनने में लगे 137 साल

रिपोर्ट के अनुसार, करीब 21000 दर्शकों की मौजूदगी में खेले गए इस मैच में मैच का एकमात्र गोल टिलेमेंस ने 63वें मिनट में किया।

By: Mahendra Yadav

Published: 16 May 2021, 04:34 PM IST

बेल्जियम के मिडफील्डर योरी टिलेमेंस के विजयी गोल की मदद से लिसेस्टर सिटी ने फाइनल में चेल्सी को 1-0 से हराकर अपने क्लब के 137 साल के इतिहास में पहली बार एफए कप फुटबॉल टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर लिया। रिपोर्ट के अनुसार, करीब 21000 दर्शकों की मौजूदगी में खेले गए इस मैच में मैच का एकमात्र गोल टिलेमेंस ने 63वें मिनट में किया। हालांकि 89वें मिनट में चेल्सी ने लगभग बराबरी का गोल दाग ही दिया था, लेकिन इसे आफसाइड करार दे दिया गया।

4 बार फाइनल में हार का सामना करना पड़ा
लिसेस्टर सिटी को इससे पहले चार बार एफए कप के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। टीम का 2016 में इंग्लिश प्रीमियर लीग का खिताब जीतने के बाद से यह पहला बड़ा खिताब है। टीम ने अब तक तीन लीग कप भी जीते हैं। बोरूसिया डॉर्टमंड के साथ 2017 में जर्मन कप और पिछले साल पेरिस सेंट जर्मेन के साथ फ्रेंच कप जीतने वाले चेल्सी के कोच थॉमस टूचेल इस बार अपने नए क्लब के साथ खिताब जीतने में विफल रहे। साथ ही टीम अपना नौवां एफए कप खिताब जीतने से भी चूक गई।

यह भी पढ़ें—टोक्यो ओलंपिक के लिए महिला फुटबॉल के मुकाबले घोषित

प्रीमियर लीग में होंगी आमने—सामने
चेल्सी और लिसेस्टर सिटी अब मंगलवार को भी प्रीमियर लीग में आमने सामने होगी, वहां हारने वाली टीम चैंपियंस लीग के अगले सीजन में जगह बनाने से चूक सकती है। चेल्सी को साथ ही 29 मई को पोटरे में मैनचेस्टर सिटी के साथ चैंपियंस लीग का फाइनल खेलना है। हार के बाद चेल्सी के मैनेजर थॉमस तुशेल ने कहा कि आज किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया। वे खिलाड़ियों के प्रदर्शन से गुस्सा नहीं, बस हताश हैं। तुशेल को लगता है कि टीम ने जीतने लायक प्रदर्शन किया था। बता दें कि एफए कप सबसे ज्यादा बार जीतने का रिकॉर्ड आर्सेनल के नाम है। उसने 14 बार खिताब अपने नाम किया है। दूसरे नंबर पर मैनचेस्टर यूनाइडेट का नाम आता है। उसने 12 बार टूर्नामेंट जीता है।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned